हिन्दी आत्माभिमान की भाषा..एकता के साथ अखण्डता का कराती है बोध..झा ने कहा…ज्यादा से ज्यादा करें प्रयोग

बिलासपुर—एसईसीएल मुख्यालय में हिंदी पखवाड़ा का श्रीगणेश किया गया। उद्घाटन समारोह की अध्यक्षता निदेशक (कार्मिक) डा. आर.एस. झा ने की। इस दौरान विशिष्ट लोगों में निदेशक तकनीकी (संचालन) कुलदीप प्रसाद, मुख्य सतर्कता अधिकारी बी.पी. शर्मा, महाप्रबंधक (कार्मिक/प्रशासन) ए0के0 सक्सेना मौजूद थे। इसके अलावा विभिन्न विभागाध्यक्षों, अधिकारियों-कर्मचारियों, श्रमसंघ प्रतिनिधियों ने भी हिस्सा लिया।

  कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे निदेशक कार्मिक डाॅ. आर.एस. झा ने कहा कि आज एक बार फिर आत्म-अवलोकन का दिन आया है। अवलोकन इस बात की कि हम पूरे साल हिंदी में कितना कामकाज करते हैं। इसमें कोई शक नहीं कि बोलचाल की भाषा में हिंदी ने वर्चस्व स्थापित कर लिया है। लेकिन आज भी कार्यालयीन कार्यों में हिंदी के प्रयोग की बहुत गंजाइश है। जोर देते हुए झा ने कहा कि राजभाषा हिंदी के उन्नयन के लिए उच्च स्तर से जो भी निर्देश मिलते हैं उनका शत प्रतिशत पालन किया जाए। हिंदी हमें एकसूत्र में पिरोने का कार्य करती है। उन्होने कहा कि राजभाषा पखवाड़ा के दौरान आयोजित प्रतियोगिताओं में लोग अधिक अधिक संख्या में भाग लेकर अभियान को सार्थक बनाएं।

        विशिष्ट अतिथि निदेशक तकनीकी (संचालन) कुलदीप प्रसाद ने बताया कि हिंदी सरल, सुगम, सुबोध, संपर्क और रोजगार की भाषा है। पूरे देश में इसकी स्वीकार्यता है। यह हमारी एकता के साथ अखण्डता को प्रदर्शित करती है। हमें अपने दैनिक जीवन में हिंदी का अत्यधिक प्रयोग करना ही होगा।

                      विशिष्ट अतिथि मुख्य सतर्कता अधिकारी बी0पी0 शर्मा ने कहा हिंदी जानधार की भाषा है। इसका अपना विशाल शब्दकोष है। सहज भाव से रोजमर्रा के कार्यालयीन कार्य में इसका बेझिझक इस्तेमाल किया जाना चाहिए। दूसरों को अधिक से अधिक संख्या में हिंदी में कार्य करने के लिए प्रोत्साहित किया जाना चाहिए।

                               कार्यक्रम के प्रारंभ में अध्यक्ष और विशिष्ट अतिथियों ने माॅं वीणावादिनी के तैल चित्र के समीप दीप-प्रज्जवलन किया। माल्यार्पण कर आशीर्वाद भी लिया। कार्यक्रम का संचालन उप-प्रबंधक (सचिवीय/राजभाषा) प्रभात कुमार कुमार ने किया। प्रभात कुमार ने राजभाषा पखवाड़ा के आयोजन के उद्धेश्यों पर प्रकाश डाला। राजभाषा पखवाड़ा के दौरान आयोजित होने वालें कार्यक्रमों की जानकारी दी।

                 कार्यक्रम में केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह के संदेश का पाठन वरीय प्रबंधक (राजभाषा/सचिवीय) डी0के0 जायसवाल ने किया। केन्द्रीय कोयला मंत्री पीयूष गोयल के संदेश का पाठन वरीय प्रबंधक (राजभाषा/सचिवीय) रघु मेनन और चैयरमेन कोलइण्डिया ए0के0 झा के संदेश का पठन उप-प्रबंधक (राजभाषा/कार्मिक)  सनीषचन्द्र ने किया। कार्यक्रम के अंत में धन्यवाद ज्ञापन महाप्रबंधक (कार्मिक/प्रशासन) ए0के0 सक्सेना ने दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *