छत्तीसगढ़ पंचायत / नगरीय निकाय संघ से सहायक शिक्षकों का सामूहिक इस्तीफा

रायपुर । नारायणपुर – बस्तर के अंतर्गत फरसगाँव ब्लॉक के सहायक शिक्षक पंचायत कर्मियों ने छत्तीसगढ़ पंचायत /  नगरीय निकाय शिक्षक  संघ से सामूहिक इस्तीफा दे दिया है। प्रदेश अध्यक्ष को लिखे पत्र में उन्होने कहा है कि संगठन के निर्णयों से संतुष्ट नहीं होने की वजह से इस्तीफा दे रहे हैं। इसी तरह शालेय शिक्षा कर्मी संघ के पूर्व ब्लॉक अध्यक्ष और प्राँतीय प्रवक्ता राजेश पॉल ने भी इस्तीफा दे दिया है।

फसरगाँव के शिक्षा कर्मियों ने संघ के प्राँतीय अध्यक्ष के नाम अपने इस्तीफे में लिखा है कि संगठन के द्वारा सहायक शिक्षकों की मांग को प्रमुखता से नहीं उठाया गया।  न ही हमारी माँगों के संबंध में किसी तरह की रुचि दिखाई। इस तरह वर्ग 3 के प्रति उपेक्षापूर्ण रवैये से क्षुब्ध होकर संगठन की प्राथमिक सदस्यता से त्याग पत्र  देते हैं।

उधर शालेय शिक्षा कर्मीं संघ के पूर्व ब्लॉक अध्यक्ष और प्राँतीय प्रवक्ता राजेश पॉल ने अध्यक्ष के नाम अपने अफने इस्तीफे में लिखा है कि  मैं अपने संगठन के अपने सभी पदों से आज से पूरी तरह से त्याग पत्र देना चाहता हूं , कारण वर्तमान परिवेश में संगठन की निर्णयों से मैं संतुष्ठ नहीं हूं क्योंकि संगठन में लिये गये निर्णय न ही सर्ववर्गहिताय है न ही सभी वर्ग से पूछकर लिया जा रहा है , निश्चय आपके नेतृत्व में कोई कमी नहीं तभी संविलियन मिल सका ,मगर इसका यह अर्थ नहीं की वर्तमान में साथियों की भावनाओं को ताक में रखकर हम निजी निर्णय ले लेकर हमारे बीच की दूरियों को खाई बना दे |
उन्होने लिखा है कि मैंने बहुत प्रयास किया कि अपने प्यारे संगठन का वर्चस्व बना रहे और हमारे साथियों को एक ही छत में रखूं ,मगर मेरी अकेले की कोशिश नाकाफी रही जबकी संगठन के अन्य सभी पदाधिकारी लगातार खाई को बढाते रहे, एसे में संगठन की राह पर चलने के लिये मैं असमर्थ हूं , कृपया मुझे मेरे सभी संगठनात्मक दायित्वों से मुक्त करने की कृपा करेंगें| मुझे सभी के भावनाओं की मर्यादा रखना सरकार की तारीफ से ज्यादा लगा इसलिये यह निर्णय लिया जैसा कि मैने पहले वादा किया था |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *