9 दिनों तक रहेगी श्रीराम कथा की गूंज..बापू चिन्मयानन्द घोलेंगे कानों में मिश्री..आयोजकों ने कहा पहले दिन कलश यात्रा का आयोजन

बिलासपुर–सीएमडी मैदान में 24 अक्टूबर से 2 अक्टूबर तक श्रीराम कथा महोत्सव का आयोजन किया जाएगा। इन 9 दिनों में बिलासपुर की जनता भक्तिभाव के सागर में गोते लगाएगी। वेद व्यास की पीठ से हमेशा बापू चिन्मयानन्द जी महाराज जनता को भगवान राम की लीलाओं का रसपान कराएंगे। यह बातें श्रीराम कथा महोत्सव के आयोजक मण्डल मनोज तिवारी,अमित तिवारी,राजा अवस्थी,चन्द्रचूर्ण त्रिपाठी,उत्कर्ष दुबे,गोपाल दुबे और विवेक शर्मा ने पत्रकार वार्ता के दौरान दी।

                       आयोजक मण्डल ने बताया कि पिछले सात सालों से भगवान परशुराम सेवा समिति और हिन्दु रक्षा मंच संयुक्त रूप से भगवान श्री राम कथा महोत्सव का आयोजन करता है। हर साल देश के नामचीन कथा वाचक और संत बिलासपुर के लोगों को कथा रसपान कराते हैं। भगवान राम की लीला सुनने भक्त गण दूर दूर से आकर संत शिरोमणि के श्रीमुख से काथ सुनकर अपने आप को धन्य मानते हैं। लोगों की भावनाओं और आस्था को ध्यान में रखते हुए आठवे वर्ष कथा महोत्सव का आयोजन सीएमडी मैदान में किया गया है। कथा महोत्सव में बापू चिन्मयान्द भक्तों को भगवान राम की कथा का रसपान कराएंगे।

                   पत्रकार वार्ता में आयोजकों ने बताया कि श्रीराम महोत्सव का राजनीति से कोई लेना देना नहीं है। कथा का शुभारम्भ कलश यात्रा समापन और घटस्थापना के साथ होगा। मनोज अमित और गोपाल समेत अन्य आयोजकों ने बताया कि 24 सितम्बर को कलश यात्रा और मंगल चारण का कार्यक्रम होगा। कलश यात्रा दोपहर 2 बजे घोंघा बाबा मंदिर से शुरू होकर गोलबाजार,उदल चौक,मध्यनगरी चौक,मसानगंज,सत्यम चौक,अग्रसेन चौक,लिंक रोड होते हुए सीएमडी मैदान पहुंचेगी।

                 आयोजकों ने बताया कि कथा वाचन के दौरान 9 दिनों तक अलग अलग काण्ड से भगवान राम की सम्पूर्ण लाओं और जीवन के एक एक घटनाक्रम को बापू चिन्मयानन्द संगीत के साथ पेश करेंगे। अपने मधुरवाणी से भक्तों के कान में राम की मिश्री घोलेंगे। कथावाचन का समय शाम 5 से आठ के बीच होगा। 24 सितम्बर को मंगलाचरण,25 सितम्बर को रामकथा महत्म और गुरूवंदना,26 सितम्बर को शिव चरित और शिव विवाह ,27 सितम्बर को श्रीराम जन्म कथा,28 सितम्बर को राम बाल चरित्र,29 सितम्बर को राम सीता विवाह,30 सितम्बर को श्रीराम वन गमन,1 अक्टूबर को केंवट संवाद और भरतचरित्र का भक्त लोग रसपान करेंगे। कथा कार्यक्रम के अंतिम दिन राम का राज्याभिषेक के साथ सुन्दरकांड का पाठ किया जाएगा। कथा समापन के बाद भक्तों के बीच प्रसाद का वितरण किया जाएगा।

             आयोजकों ने बताया कि 9 दिनों तक आस्था चैनल में श्रीराम कथा का लाइव किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *