संभागायुक्त ने किया कैम्पस एम्बेसडर को रिचार्ज..कलेक्टर ने कहा..युवा करेंगे 100 प्रतिशत मतदान…साफ्टवेयर से लगाई गयी ड्यूटी.

बिलासपुर–मतदाता जागरूकता अभियान के तहत प्रार्थना सभा भवन में संभाग स्तरीय कैम्पस एम्बेसडर और नोडल अधिकारियों का प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया गया। शिविर को संभागायुक्त टी.सी.महावर ने संबोधित किया। महावर ने कहा मतदाता जागरूकता में एक व्यक्ति की अहम भूमिका है। आप लोगोें को ही समाज के सभी वर्गों को मतदान के लिए प्रेरित करना है।
             महावर ने इस दौरान उपस्थित लोगों को बताया कि जनता को बार-बार याद दिलाना है कि लोकतंत्र में मतदान की क्या भूमिका होती है। सभी कैम्पस एम्बेसडर युवा है। आपकी बात आपके काॅलेज के साथियों के साथ समाज के सभी वर्ग के लोग सुनते हैं। आप जितना ज्यादा लोगों को प्रेरित करेंगे संभाग में मत प्रतिशत उतना ही अधिक होगा। संभागायुक्त महावर ने बताया कि जो कैम्पस एम्बेसडर अच्छा काम करेंगे उन्हें सम्मानित भी किया जाएगा।
                         कलेक्टर और  जिला निर्वाचन अधिकारी पी.दयानन्द ने कहा कि पिछले दो महीने से मतदाता जागरूकता कार्यक्रम चलाया जा रहा है। कैम्पस एम्बेसडर्स अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। शहरी क्षेत्रों में हमको ज्यादा जागरूकता की आवश्यकता है। निर्वाचन लोकतंत्र का सबसे बड़ा त्योहार होता है। सभी मतदाताओं को इस महान उत्सव में शामिल होना चाहिए।
             दयानन्द ने बताया कि हमारे देश की 65 प्रतिशत आबादी युवा है। ऐसे में फिर मतदान भी शत-प्रतिशत होना चाहिये। शिविर में सभी को ईवीएम और वीवीपेट के बारे में भी जानकारी दी गई। कार्यक्रम में स्वीप के नोडल अधिकारी फरिहा आलम सिद्दिकी, बिलासपुर संभाग के सभी कैम्पस एम्बेसडर और नोडल अधिकारी मौजूद थे।
रेंडमाईजेशन साफ्टवेयर से मतदान अधिकारियों की ड्यूटी
        कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी पी.दयानन्द की उपस्थिति में आज रेंडमाईजेशन साफ्टवेयर के माध्यम से मतदान दलों के लिये पहले रेंडमाईजेशन की प्रक्रिया का पालन किया गया। पहले रेंडमाईजेशन में मतदान दलों के लिये पीठासीन अधिकारी, मतदान अधिकारी-1, 2 और 3 तय किये गये। सभी सातों विधानसभाओं के लिये कुल आवश्यक 2143 पीठासीन अधिकारियों के विरूद्ध 2150 पीठासीन अधिकारी बनाए गए। आवश्यक मतदान अधिकारी क्रमांक-1 के 2143 के विरूद्ध 2150, आवश्यक मतदान अधिकारी का नाम सामने आया। क्रमांक-2 के 2143 के विरूद्ध 2150 और आवश्यक मतदान अधिकारी क्रमांक-3 के 2143 के विरूद्ध 2149 अधिकारियों, कर्मचारियों की ड्यूटी रेंडमाईजेशन साफ्टवेयर के माध्यम से लगाई गई। आगामी रेंडमाईजेशन के माध्यम से मतदान दलों को विधानसभा और मतदान केन्द्र आबंटित किया जायेगा। रेंडमाईजेशन के जरिये 120 प्रतिशत मतदानकर्मियों को रेंडमली चयन किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *