अकालग्रस्त तहसीलों में हर एक गाँव का होगा सर्वे

akal

बिलासपुर ।  संभागीय कमिश्नर   सोनमणि बोरा की अध्यक्षता में बुधवार को  कलेक्टर्स कान्फ्रेंस आयोजित की गई। बैठक में संभाग के सभी कलेक्टरों को निर्देशित किया कि कम वर्षा वाले तहसीलों में खाद्यान एवं स्वास्थ्य सुरक्षा के लिए ग्रामवार पूर्ण योजना बनाएं। वर्षा की कमी को देखते हुए वन, कृषि एवं राजस्व प्रशासन समन्वय बनाकर कार्य करें। गांवों में जाकर स्थिति का जायजा लें तथा स्थानीय प्रशासन संवेदनशील होकर कार्य करे।
मंथन सभाकक्ष में आयोजित बैठक में श्री बोरा ने वर्षा की कमी वाले तहसीलों में ग्रामवार सर्वे कर फसल की स्थिति का जायजा लेने तथा इन क्षेत्रों में स्वीकृत कार्यों को तत्काल प्रारंभ कराने कहा। इन क्षेत्रों में ग्रामीणों को पेंशन का वितरण भी नियमित रूप से सुनिश्चित कराएं। ग्राम पंचायतों में एक-एक क्विंटल चावल अनिवार्य रूप से उपलब्ध रहे तथा हर गांव के मितानिन के पास सभी जरूरी दवाईयां उपलब्ध रहे। जिन क्षेत्रों में खेतों में ब्यासी नहीं हो पायी है, उन क्षेत्रों में वैकल्पिक फसल कुल्थी, रामतिल तथा दलहन फसल, उड़द आदि उगाने के लिए किसानों को प्रेरित करने कहा। बैठक में उपस्थित अनुविभागीय अधिकारियों (राजस्व) को कम वर्षा वाले क्षेत्रों का निरंतर भ्रमण करने तथा विभिन्न विभागों के अधिकारियों से समन्वय बनाकर कार्य करने का निर्देश दिया गया। संभागायुक्त ने जंगली जानवरों आदि से फसल की क्षति होने पर निर्धारित समय के भीतर राहत राशि प्रभावितों को प्रदान करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि इन मामलों में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी तथा शासन के मंशानुरूप त्वरित राहत प्रदान किया जाये।
संभागायुक्त ने सभी कलेक्टर्स को निर्देशित किया कि हर 15 दिन में एक दिन राजस्व दिवस के रूप में मनाएं तथा रोस्टर बनाकर तहसीलों का निरीक्षण करें। इससे राजस्व प्रशासन के कार्यों का आकलन होगा तथा जो गलतियां हो रही है वह पता भी चलेगा। उन्होंने प्रत्येक माह प्रथम व अंतिम शनिवार को निरीक्षण करने का निर्देश दिया। निरीक्षण के दौरान रिकार्ड रूम को देखने तथा पटवारी रिकार्ड का अपडेशन और नक्शों के दुरूस्तीकरण के लिए मेहनत करने कहा। श्री बोरा ने राजस्व प्रकरणों के निराकरण की समीक्षा करते हुए कार्य के हिसाब से प्रगति पर असंतोष व्यक्त किया और निराकरण की गति बढ़ाने के निर्देश दिये।

बैठक में कलेक्टर बिलासपुर  अन्बलगन पी., जांजगीर कलेक्टर  ओ.पी. चैधरी, मुंगेली कलेक्टर  संजय अलंग, कोरबा कलेक्टर  पी.दयानंद, अपर आयुक्त , संभाग के सभी जिलों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी, अपर कलेक्टर्स उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.