अनुशासनहीनता के नाम पर अवैध वसूली का आरोप…NSUI नेताओं ने कहा..शिक्षा विभाग का करेंगे घेराव

बिलासपुर—एनएसयूआई नेताओं ने राजेन्द्रनगर स्थित हरि मॉडल स्कूल का घेराव किया। प्राचार्य पर छात्र छात्राओं से अवैध वसूली करने का आरोप लगाया। इस दौरान एनएसयूआई के छा्त्र नेताओं ने प्राचार्य और प्रबंधन के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। नाराज स्कूल की प्राचार्य ने एनएसयूआई छात्र नेताओं के खिलाफ पुलिस कार्रवाई धमकी दी। लेकिन छात्र नेता अपनी मांग से टस से मस नहीं हुए।

           राजेन्द्र नगर स्थित हरिमॉडल स्कूल के सामने प्रबंधन के खिलाफ एनएसयूआई नेताओं ने जमकर नारेबाजी की है। छात्र नेताओं ने स्कूल प्रबंधन और पाचार्य पर अवैध वसूली का आरोप लगाया है। छात्र नेताओं ने बताया कि स्कूल छात्र छात्राओं से अनुशासनहीनता के नाम पर अवैध वसूली हो रही है। मोजा,टाई नहीं पहने जाने पर मनमाफिक जुर्माना ठोंक दिया जाता है। कभी डायरी के नाम पर 100 रूपए तो कभी स्कूल नहीं आने पर बच्चों पर 100 का अर्थदण्ड लगा दिया जाता है।

छात्र नेता अर्पित ने बताया कि अवैध वसूली से एकत्रित रूपयों से स्कूल अध्यक्ष एस.के.जुनेजा के पिता की  पुण्य तिथि पर हवन के नाम सभी छात्रो से 100 रूपए लिए जाते हैं।  कार्यक्रम में अनुपस्थित रहने पर छात्र छात्राओं को अतिरिक्त 100 रूपए का भुगतान करना पड़ता है।

                            अर्पित केशरवानी ने बताया कि स्कूल  मे बात बात पर लम्बी चौड़ी पेनाल्टी की वसूली होती है। प्रबंधन ने शिक्षा के मंदिर को रूपए ऐंठने का अड्डा बना दिया है। शिक्षा विभाग के दखल नहीं होने से प्रबंधन की मानमानि का खामियाजा अभिभावकों को भुगतना पड रहा है। अर्पित ने बताया कि अवैध वसूली के एवज में रसीदी भी नहीं दिया जाता है।

एनएसयूआई नेताओं ने इस दौरान स्कूल प्रबंधन के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए उग्र आंंदोलन की धमकी दी। छात्र नेताओं ने बताया कि यदि अवैध वसूली पर लगाम नहीं लगाया गया तो शिक्षा विभाग का भी घेराव किया जाएगा।

प्रदर्शन के दौरान अमितेष राय,अर्पित केशरवानी,जयपाल निर्मलकर, समेत कई एनएसयूआई नेता मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *