मेरा बिलासपुर

अपना गिरेवान झांके….

IMG_20150530_132000बिलासपुर— दूसरों पर ऊंगली उठाने वाले पहले अपना दामन देखें। कांग्रेस का इतिहास बहुत साफ रहा है। जो कांग्रेस के इतिहास के इतिहास और उसके शासन काल के बारे में बढ़-चढ़कर मीडिया के सामने बयानबाजी करते हैं। उन्हें बताना चाहता हूं कि पहले वे अपने परिवार के अन्दर झांके फिर मुंह खोलें। अभय नारायण राय ने सीजी वाल से बातचीत के दौरान बताया कि कांग्रेस पार्टी में युवा नेताओं के साथ वरिष्ठ नेताओं का हमेशा सम्मान हुआ है। भाजपा नेता बद्रीधर दीवान का दर्द किसी सी छिपा नहीं है। तभी तो वे कहते हैं कि साठ साल बाद भी मुझे किसी मंडल अध्यक्ष लायक नहीं समझा गया। यह सुनकर अच्छा नहीं लगा।

                   भाजपा पर निशाना साधते हुए कांग्रेस के संभागीय प्रवक्ता अभय नारायण राय ने सीजी वाल से बताया कि डिजिटल इंडिया सप्ताह समारोह के दौरान बेलतरा विधायक का दर्द सबके सामने आया है। ऐसे दर्द कई रूप में कई मुंह से भाजपा के अन्दर से आते रहे हैं। भाजपा की नीति और रीति में बहुत अन्तर है। हम बुजुर्ग नेताओं को अपना धरोहर समझते हैं। उनके मार्गदर्शन में चलते हैं। इसके विपरीत भाजपा में बुजुर्ग नेताओं को एक्सपायरी डेट समझकर धीरे-धीरे बाहर का रास्ता दिखा दिया जाता है। बद्रीधर दीवान के साथ भी इन दिनों ऐसा ही हो रहा है।

                     अभय नारायण राय ने बताया कि आज बाबू मौर्य कहां है। जिन्होंने प्रतीज्ञा की थी कि जब तक अटल बिहारी वाजपेयी प्रधानमंत्री नहीं बनेंगे तब तक मै पैर में जूता और चप्पल धारण नहीं करूंगा। उस समय भाजपाईयों ने बाबू मौर्य को सिर पर बैठा लिया। अब शायद ही कोई जानता होगा कि बाबू मौर्य कहां है। भाजपा में बुजुर्ग नेताओं और कार्यकर्ताओं को हासिए पर रखने का काम आज से नहीं बल्कि जब से पार्टी बनी है तब से हो रहा है। अभय नारायण राय ने इस दौरान दीवान परिवार मनहरण लाल पाण्डेय परिवार मदन,अर्जुन भोजवानी गिरिश शुक्ला अशोक पिंगले,मनु मिश्रा जैसे लोगों का उदाहरण देते हुए सीजी वाल से बताया कि क्या किसी को मालूम है कि ये किसी जमाने में धाकड़ भाजपा नेता हुआ करते थे। आज यह हैं कहां। इसलिए बेहतर होगा कि लोग कांग्रेस पर तोहमत लगाने वाले लोग पहले अपना गिरेवान झांके।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS