अपोलो में कर्मियों ने किया योगाभ्यास

 

???????????????????????????????

बिलासपुर । योग: एक प्राचीन भारतीय जीवन पद्धति है। योग के माध्यम से न केवल बीमारियों का निदान होता है बल्कि योग शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को सशक्त कर जीवन में नव उर्जा का संचार करता है। योग आसन और मुद्राए तन और मन दोनों को क्रियाशील बनाये रखता है।
योग को वैश्विक स्तर पर स्थापित करने के उद्देश्य से आयोजित अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर देश के अग्रणी स्वास्थ्य सेवा प्रदाता संस्थान अपोलो हाॅस्पिटल समूह के संस्थापक चेयरमेन पद्म विभूषण डाॅ. प्रताप रेड्डी के आह्वान पर समूह के सभी अस्पतालों में अधिकारी, चिकित्सक, विभागाध्यक्ष व कर्मचारी गण नें योगासन किया।
इसी कड़ी में अपोलो हाॅस्पिटल बिलासपुर में भी मुख्य कार्यपालन अधिकारी, डायरेक्टर मेडिकल सर्विस, समस्त चिकित्सक, विभागाध्यक्ष सहित कर्मचारी गण नें अस्पताल की मुख्य लाॅबी में योग किया। इस अवसर पर अस्पताल परिसर में राजपथ दिल्ली में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के कार्यक्रम के सीधे प्रसारण की व्यवस्था के साथ साथ अस्पताल में योग करने वालों के मार्गदर्शन के लिये प्रशिक्षित व कुशल योग निदेशक की विशेष व्यवस्था की गयी।

???????????????????????????????
मुख्य कार्यपालन अधिकारी, अपोलो हाॅस्पिटल बिलासपुर, डाॅ. अनिल कुमार शर्मा नें कहा कि योग सभी के लिये सहज एवं सर्वसुलभ है। योगासन से शरीर के प्रत्येक अंग का व्यायाम होता है जिससे शरीर पुष्ट, स्वस्थ व सु्दृढ़ बनता है। योग की विभिन्न मुद्राओं में श्वसन तंत्र, स्नायु तंत्र, रक्तप्रवाह तंत्र आदि का व्यवस्थित संचालन होता है जिससे शरीर स्वस्थ व निरोगी रहता है, अतः यह आवश्यक है कि हम अपने प्राचीन ज्ञान को अपनाते हुये आने वाली पीढ़ी को भी इसकी समुचित जानकारी देवें।

अपोलो हाॅस्पिटल बिलासपुर में आयोजित योग कार्यक्रम में सभी लोगों ने उत्साहपूर्वक भाग लिया। योग करने वालों की संख्या अधिक होने के कारण यह कार्यक्रम सुबह 07ः00 से तीन पालियों में व्यवस्थित किया गया। आज के आयोजन में प्रजापिता ब्रम्ह कुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय बिलासपुर से बहन स्वाति व बहन संतोषी के कुशल मार्गदर्शन में सभी लोगों ने प्राणायाम, ध्यान एवं विभिन्न योग किये।
योगासन के दौरान बहन स्वाति व बहन संतोषी नें विभिन्न प्रेरक प्रसंग व अनुभव पर चर्चा भी की साथ ही योग को अपनी दिनचर्या में सम्मिलित करने पर जोर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *