मेरा बिलासपुर

अमरकंटक का बाबा निकला कोरोना संदेही..साधु से सिम्स प्रबंधन परेशान

बिलासपुर—अमरकंटक का एक सन्यासी प्रारम्भिज जांच में कोरोना पाजीटिव पाया गया है। कोरोना पाजीटिव संंदेही बाबा को सीएचएमओ कार्यालय ने सिम्स में आइसोलेशन का निर्देश दिया। लेकिन सिम्स पहुंचते ही बाबा ने पूरे सिस्टम को हिलाकर रख दिया है। बाबा से परेशान होकर सिम्स प्रबंधन ने कहीं दूसरे जगह भर्ती किए जाने का निवेदन सीएचएमओ कार्यालय से किया है।

                  सीएचएमओ कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार साव धर्मशाला में अमरकंटक के कुछ सन्यासी कई दिनों से रूके थे। इस दौरान सावधानी को ध्यान में रखते हुए बाबा का आरडी किट टेस्ट किया गया। बाबा को सर्दी खांसी की शिकायत थी। आरडी किट टेस्ट में बाबा को कोरोना पाजीटिव संदेही पाया गया।

               इसके बाद सन्यासी का पीसीआर टेस्ट लिया गया। रिपोर्ट को जांच के लिए एम्स रायपुर भेजा गया है। सिम्स प्रबंधन ने बताया कि बाबा को आइसोलेश वार्ड में रखा गया। लेकिन इसके उन्होने स्टाफ को परेशानी में डाल दिया।अपने बेड से उठकर उधर उधर घूमना शुरू कर दिया। साथ ही थो़ड़ी थोड़ी देर में आइसोलेशन वार्ड से बाहर आना जाना करने लगे। मना करने पर बाबा ने नाराजगी जाहिर की है।

                 सिम्स प्रबंधन के अनुसार सीएचएमओ कार्यालय से निवेदन किया गया कि बाबा को कही भर्ती किया जाए। उनके चलते अन्य सामान्य मरीज प्रभावित हो सकते हैं। क्योंकि आइसोलेशन से निकलने के बाद बाबा मरीजों से भी मिल रहे हैं।  

नहीं होने देंगे सरकारी करण..अमर अग्रवाल ने बताया...दलबदल की पूरी आशंका...राज्यपाल को भी अवगत कराया
Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS