अमर ने किसके लिए कहा…छत्तीसगढ़ की आधारशिला…फिर बताया समस्याओं का होगा तेजी से निराकरण

रायपुर—उद्योग एवं वाणिज्यिक कर मंत्री अमर अग्रवाल ने पण्डरी स्थित सिटी सेन्टर माल में स्काई हेक प्रतियोगिता के विजेताओं को सम्मानित किया। मालूम हो कि चिप्स और छत्तीसगढ़ सरकार के बिजनेस इन्क्यूबेटर 36 इंक ने स्काई योजना के तहत  हेकथान प्रतियोगिता का आयोजन स्काई हेक के नाम से किया था। प्रतियोगिता में उद्यमियों को जनता की समस्याओं के निराकरण के लिए एप्प आधारित समाधान विकसित करना था।
                    मंत्री ने आज प्रतियोगिता की छह विधाओं के अंतर्गत 18 टीमों को 9 लाख रुपए का चेक से सम्मानित किया। छह विधाओं में से प्रत्येक विधा में प्रथम आने वाल टीम को एक-एक लाख रूपए और दूसरे और तीसरे स्थान की टीमों को 25-25 हजार रूपए ईनाम में दिए गए। अग्रवाल ने कहा कि स्काई योजना छत्तीसगढ़ के विकास की आधारशिला है। दायरा लोगों को महज मोबाईल फोन वितरण तक ही नहीं है। बल्कि डिजिटल तकनीक और सुशासन के जरिए जनता के अधिकारों को मजबूती देना और समस्याओं का निदान भी करना है।
   मालूम हो कि राज्य सरकार की संचार क्रांति योजना के तहत 8100 से अधिक गांवों समेत 168 नगरीय निकायों में 4 जी नेटवर्क स्थापित किया जा रहा है। 50 लाख स्मार्टफोन भी वितरित किए जा रहे हैं। स्मार्टफोन से उत्पन्न होने वाली डिजिटल कनेक्टिीविटी के अवसर का लाभ उठाने के लिए स्काई-हैक के नाम से हेकथान का आयोजन किया जा रहा है।  हैकथान में प्रारभिक चरण में ढाई हजार से ज्यादा प्रतिभागियों को पंजीकृत किया गया। 30 टीमों का चयन कर प्रत्येक टीम को एक विशेषज्ञ ज्यूरी पैनल के सामने विचार प्रस्तुत करने के लिए कहा गया।
                                          हैकथान के लिए राज्य के छह प्रमुख विभागों की चुनौतियों की पहचान को सूचीबद्ध किया गया है। पहली चुनौती शासकीय विषयों पर नागरिकों से रियल टाईम प्रतिक्रिया प्राप्त करना है। इस विषय पर बेहतर ऐप बनाने के लिए प्रथम पुरस्कार क्रीजारे टीम को और दूसरा और तीसरा पुरस्कार अविनाशी टीम और टूरी टीम को मिला है।
                                     चिप्स ने ब्लॉकचेन प्रौद्योगिकी के अंतर्गत  बेहतरीन कार्य करने वाली कम्पनियों को सम्मानित किया । कार्यक्रम में उद्योग विभाग सचिव डॉ. कमलप्रीत सिंह, इलेक्ट्रानिक्स एवं सूचना प्रोद्योगिकी विभाग के सचिव डॉ. संजय शुक्ला, चिप्स के सीईओ  एलेक्स पॉल मेनन, संचालक उद्योग अनुराग पाण्डेय, प्रबंध संचालक  सुनील मिश्रा और छत्तीसगढ़ इन्क्यूबेटर के सीईओ राजीव राय मौजदू थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *