मेरा बिलासपुर

अर्जुन सिंह..किसी ने कहा चाण्क्य, तो किसी ने बिलासपुर का सेवक

IMG_20151105_113216बिलासपुर– जिला कांग्रेस कमेटी ने आज पूर्व कांग्रेस नेता अर्जुन सिंह को जयंती पर याद किया। उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित कर उनके यादों को बारी बारी से सभी नेताओं ने सबके सामने रखा। इस मौके पर कांग्रेसी नेताओं ने अर्जुन सिंह के बिलासपुर के प्रति अनुराग और योगदान को याद किया। कार्यक्रम में प्रदेश कांग्रेस महामंत्री अटल श्रीवास्तव,जिला कांग्रेस ग्रामीण अध्यक्ष राजेन्द्र शुक्ला,शहर अध्यक्ष नरेन्द्र बोलर,निगम नेता प्रतिपक्ष शेख नजरूद्दीन विशेष रूप से उपस्थित थे।

                   आज कांग्रेसियों ने जिला कांग्रेस कार्यालय में पूर्व केन्द्रीय मंत्री और मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री को जयंती पर यदा किया। बारी-बारी से उपस्थित नेताओं ने अर्जुन सिंह के राजनीति में योगदान और बिलासपुर के प्रति विशेष स्नेह को स्मरण किया। इस मौके पर उपस्थित नेताओं ने पूर्व केन्द्रीय मंत्री के चित्र पर माल्यार्पण किया। प्रदेश कांग्रेस महामंत्री अटल श्रीवास्तव ने बताया कि अर्जुन सिंह भारतीय राजनीति में चाणक्य की भूमिका रखते थे। उनके ही प्रयास से बिलासपुर को गुरूघासीदास विश्वविद्यालय बाद में केन्द्रीय विश्वविद्यालय मिला। तीन बार अविभाज्य मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री रहते हुए उन्होंने हमेशा बिलासपुर के विकास के लिए काम किया।  उन्होंने पंजाब का राज्यपाल रहते हुए खालिस्तान मांग को खत्म  किया।

                         उपस्थित लोगों को नरेन्द्र बोलर ने संबोधित करते हुए कहा कि अर्जुन सिंह बहुत सरल और मिलनसार स्वभाव के थे। उन्होंने हमेशा गरीब और आम जनता के लिए काम किया। छोटे- से छोटे कार्यकर्ताओं को बहुत महत्व देते थे।  अपने मंत्रित्त्व काल में उन्होंने ना केवल बिलासपुर बल्कि प्रदेश के गरीबों के लिए बहुत काम किया।

       संभागीय प्रवक्ता अभय राय ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया। उन्होंने बताया कि अर्जुन सिंह एक किताब थे। उन्होने अपने कार्यकाल में विशेषाधिकारों का प्रयोग करते हुए वह काम किया जिसे आज तक किसी नेता में करने का साहस नहीं है। चाहे लोंगोवाल समझौता हो या फिर शिक्षा के क्षेत्र में क्रांतिकारी कदम ही क्यों ना हो। उन्हें जब भी लगा इस कदम से आम जनता को सीधे फायदा है। उन्होंने किया।

तोरवा क्षेत्र में आठ लाख की चोरी..हिरासत में संदेही

                    कार्यक्रम को जफर अली और शेख नजरूद्दीन ने भी संबोधित किया। नेता द्वय ने बताया कि मन सोच कर आनंदित हो जाता है कि भारतीय राजनीति में खासकर कांग्रेस पार्टी में अर्जुन सिंह जैसा नेता हुआ करते थे। उनका जब भी सानिध्य मिला वह किसी चमत्कार से कम नहीं था।

                            कांग्रेसियों ने अर्जुन सिंह की जयंती को सर्वहारा दिवस के रूप में मनाया। सभी नेताओं ने कहा कि वह सर्वहारा वर्ग के लिए समर्पित थे। इसलिए उन्हें प्रदेश और देश की जनता आज भी गर्व से याद करता है।

                        इस मौके पर पंकज सिंह,शैलेन्द्र जायसवाल, सुभाष सिंह ठाकुर समेत कई महिला और पुरूष कांग्रेस कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS