आईएसआई एजेन्ट को लेकर आई बिलासपुर पुलिस

IMG20170419140121बिलासपुर— बिलासपुर पुलिस टीम…जम्मू कश्मीर से आईएसआई एजेन्ट सतविन्दर सिंह को पूछताछ के लिए बिलासपुर लेकर आ गयी है। सिविल लाइन थाना प्रभारी नसर सिद्धिकी की अगुवाई में टीम ने आईएसआई एजेन्ट को जम्मू स्थित आरएसपुरा से सारी औपचारिकताओं के बाद हिरासत में लिया है। सतविन्दर को पुलिस की गहन निगरानी में रखा गया है। जानकारी के अनुसार सीएम प्रवास के बाद पुलिस के आलाधिकारी सतविन्दर से पूछताछ करेंगे।

                            सिविल लाइन थाना प्रभारी नसर सिद्दिकी की टीम जम्मू स्थित आरएस पुरा से आईएसआई एजेन्ट को हिरासत में लेकर सुबह ही बिलासपुर पहुंची है। सतविन्दर को पुलिस को गहन निगरानी में रखा गया है।

               मालूम हो कि करीब महीने भर पहले पुलिस को जानकारी मिली थी कि मध्यप्रदेश के अलावा छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में आईएसआई के एजेन्ट देशद्रोही गतिविधियों में शामिल हैं। पुलिस ने लगातार पैनी नजर रखते हुए बिलासपुर और जांजगीर चांपा से चार आरोपियों को धर दबोचा। इनमें दो सगे भाई भी शामिल हैं। इनके तार दिल्ली में जब्बार नामक आईएसआई एजेन्ट जुड़े हैं।

                         चारों से पूछताछ के दौरान मालूम हुआ कि जांजगीर चांपा निवासी धर्मेन्द्र यादव दिल्ली में आईएसआई एजेन्ट जब्बार को एटीएम से रूपए निकालकर देता था। धर्मेन्द्र के पास अलग अलग बैंकों के करीब 15 एटीएम हैं। सभी एटीएम के खाते बिलासपुर स्थित अलग अलग बैंकों में हैं। बिलासपुर पुलिस को धर्मेन्द्र समेत गिरफ्तार किये गए अन्य तीन आरोपियों ने बताया कि खाते में रूपए आते कहां से आते थे। इसकी जानकारी उन्हें नहीं है। लेकिन रूपयों को निकालकर वे लोग अलग अलग बैंकों के खातों में डालते थे। धर्मेन्द्र उन्ही खातों से रुुूपए निकालकर नोयड़ा में आईएसआई एजेन्ट जब्बार को देता था।

                गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने पत्रकारों को बताया था कि धर्मेन्द्र का संबध सतना निवासी रज्जू तिवारी से भी है। रज्जू ने ही धर्मेन्द्र का परिचय जब्बार से कराया था। रज्जू को मध्यप्रदेश पुलिस ने कुछ महीने पहले गिरफ्तार किया है। बाद में जब्बार को भी हिरासत में लिया गया। दोनों ने बताया एटीएस को बताया कि बिलासपुर में हमारे एजेन्ट रूपए निकालने और डालने का काम करते हैं। जानकारी मिलने के बाद चारों की धरपकड़ हुई।

                           बिलासपुर पुलिस ने पत्रकारों को बताया था कि जम्मू में गिरफ्तार आईएसआई एजेन्ट सतविन्दर  सिंह ने सभी नामों के बारे में पूछताछ के दौरान बताया था।

                    मालूम हो कि गिरफ्तार किये गए चारों आरोपियों से जम्मू पुलिस पूछताछ करने बिलासपुर पहुंची। बाद में धर्मेन्द्र यादव को लेकर कश्मिर रवाना हो गयी।

                            इसी क्रम में सिविल लाइन थाना प्रभारी नसर सिद्धिकी की टीम जम्मू से आईएसआई एजेन्ट सतविन्दर को हिरासत में लेकर बिलासपुर आ गयी है। जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री के कार्यक्रम के बाद सतविन्दर से पुलिस आलाधिकारी पूछताछ होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *