आजाद घूम रहे हैं घोटालेबाज– महंत

IMG-20150713-WA0001बिलासपुर—तखतपुर में आज नान घोटाले की जांच करने पहुंचे कांग्रेसियों को एक बार फिर प्रशासन के विरोध का सामना करना पड़ा। धान संग्रहण केन्द्र निरीक्षण के बाद कांग्रेस की जांच टीम जैसे ही नान गोदाम भौतिक सत्यापन करने पहुंची। पुलिस की सुरक्षा टीम ने गोदाम में प्रवेश करने से रोक दिया। इस दौरान कांग्रसियों ने जमकर नारेबाजी करते हुए स्थानीय प्रशासन को भला बुरा कहा। बाद में कांग्रेस ने गोदाम का भौतिक सत्यापन बाहर से ही किया। जांच टीम ने भरनी धान संग्रहण केन्द्र का भी घेराव किया।

                       नान घोटाला जांच करने तखतपुर पहुंची कांग्रेस टीम को पुलिस के विरोध का सामना करना पड़ा। पुलिस टीम ने कांग्रेस को गोदाम में भौतिक सत्यापन के लिए प्रवेश करने नहीं दिया। कांग्रेसियों ने यहां भी सरकार और स्थानीय प्रशासन पर गरीबों के साथ अन्याय और तानाशाही करने का आरोप लगाया। कांग्रेसियों ने बताया कि नान गोदाम में धान है भी या नहीं संदेह है। धान संग्रहण केन्द्र में धान का रखरखाव भी सही तरीके से नहीं किया जा रहा है। अमानक धान कितना है कर्मचारी बताने को तैयार नहीं है। बाद में कांग्रेसियों ने गोदाम का सत्यापन बाहर से ही किया।

                       आज जैसे ही नान के गोदाम में कांग्रेस की टीम पहुंची अधिकारी ताला लगाकर गायब हो चुके थे। वहीं सुरक्षा के नाम पर पुलिस कांग्रेसियों को गोदाम से दूर रखा। इस दौरान कांग्रेसियों ने डॉ.रमन सिंह के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए प्रशासन पर तानाशाही और गरीबों को लूटने का आरोप लगाया। अंत में कांग्रेसियों ने गोदाम के बाहर से ही सत्यापन किया

                    नान गोदाम की जांच करने पहुंची कांग्रेस की टीम में पूर्व केन्द्रीय मंत्री चरणदास महंत, वरिष्ठ कांग्रेस नेता आशीष सिंह ठाकुर, पूर्व भाजपा नेता जगजीत मक्कड़ और जिला कांग्रेस ग्रामीण अध्यक्ष राजेन्द्र शुक्ला के अलावा उनके समर्थक भारी संख्या में उपस्थित थे।

गरीबों से लूट,अमीरों को छूट

               भाजपा सरकार अमीरों को लुटा रही है और गरीबों को लूट रही है। किसानों के अन्न को पहले धान संग्रहण केन्द्रों में सड़ाया जा रहा है। जो बचा उसे गोदाम से चोरी से सेठ साहूकारों में बांटा जा रहा है। 36 हजार करोड़ का घोटाले में यदि सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है तो किसानों का । आज किसान भूख से मर रहा है। लेकिन प्रदेश के मुखिया अमीरों पर धन-धौलत की बरसात कर रहे हैं। जिन अधिकारियों को अभी तक सजा मिली है। वह तो सिर्फ छोटी मछलियां। घोटाले की बड़ी मछलियां आज भी खुलेआम विचरण कर रही हैं।

                             डॉ.चरणदास महंत…पूर्व केन्द्रीय मंत्री

Leave a Reply

Your email address will not be published.