मेरा बिलासपुर

आठ अगस्त के बाद लूंगा निर्णय-श्रीरंग

tiyuबिलासपुर–सिविल लाइन थाना पहुंचकर मृतक गौरांग के पिता ने बताया कि मेरे बेटा हत्या का शिकार हुआ या हादसे का पुलिस कुछ भी स्पष्ट नहीं बता रही है। सवाल का जवाब जानने आज मैं अपनी बेटी के साथ सिविल लाइन थाना आया हूं। गौरांग के पिता ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट से लेकर आरोपियो के पकड़े जाने तक मामले में क्या कुछ किया गया। पुलिस स्पष्ट रूप कुछ भी नहीं बता रही है।

                   श्रीरंग ने मीडिया से बताया कि मैने आज पुलिस से जानना चाहा कि गौरांग के दोस्तो ने अपने बयान में क्या बताया है..वारदात की वजह क्या थी…घटना के लिए जिम्मेदार कौन है….तमाम सवाल मैने किये…पुलिस कुछ नहीं बता रही है। श्रीरंग बोबड़े ने बताया कि पुलिस केवल जांच और पोस्टमार्टम रिपोर्ट मेरे सामने रख रही है। मुझे कुछ भी समझ में नहीं आ रहा है।

                         श्रीरंग बोबड़े के अनुसार आठ अगस्त को हिरासत में लिए गए चारो आरोपियों को कोर्ट में पेश कर रिमांड़ की अवधि बढाने के सवाल पर पुलिस जांच की बात कह रही है। बोबर्डे ने बताया कि आरोपियो को गैर इरादतन हत्या के मामले में सजा दिलाने का मन पुलिस ने तय कर लिया है।

                         मालूम हो कि गौरांग की मौत मैग्नेटो माल में हुई है। पुलिस जांच के अनुसार गौरांग की मौत सीढ़ी से गिरकर अत्यधिक चोट लगने से हुई है। घायल गौरांंग को बाऊंसर और माल कर्मचारियो ने जिला चिकित्सालय में दाखिल कराया था। जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। गौरांग के दोस्त घटना स्थल से फरार हो गये थे। जानकारी के अनुसार जांच के दौरान पुलिस को सीसीटीवी से कुछ ऐसे प्रमाण मिले है जिससे जाहिर होता है कि गौरांग की मौत रैलिंग से गिरने के बाद अत्यधिक चोट लगने से हुई है। जांच के बाद पुलिस न चार लोगों को हिरासत में लेकर धारा 304, 291,34 के तहत मामला दर्ज किया है। चारो आरोपी इस समय रिमांड में है।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS