आरोपी पति पर हत्या का जुर्म…पत्नी पर किया था जानलेवा हमला…

TORAVA THANAबिलासपुर—पिछले महीने 29 मई को लालखदान निवासी रीता निषाद पर नकाबपोश ने जानलेवा हमला किया था। ठीक एक महीने बाद सिम्स में गहन उपचार के दौरान रीता निषाद की मौत हो गयी है। रीता निषाद पर उसके पति विकास ने ही नकाबपोश बनकर जानलेवा हमला किया था। तोरवा पुलिस ने आरोपी पति की गिरफ्तारी भिलाई से की थी। पूछताछ के दौरान विकास निषाद ने पुलिस को बताया था कि अपनी पत्नी से बहुत परेशान था। उसने जीना मुश्किल कर दिया था। शादी के मात्र बीस दिन बाद ही संबध तोड लिया। इन बीस दिनों में उसके साथ पत्नी जैसा संबध नहीं था।  इसलिए नकाबपोश बनकर रीता निषाद पर जान लेवा हमला किया। पुलिस ने विकास को 307 का मामला दर्ज कर जेल भेज दिया था।

               तोरवा टीआई परिवेश तिवारी ने बताया कि पिछले 29 मई को लालखदान में  रहने वाली रीता निषाद, पिता सुदामा निषाद दोपहर के समय अपनी दुकान परी रेडीमेड में थी। दोपहर डेढ़ से दो बजे के बीच एक नकाबपोश आया और रीता पर राड से ताबड़तोड़ हमला कर फरार हो गया। अचानक हमले से रीता बुरी तरह जख्मी हो गई। इलाज के लिए पहले पेंडलवार नर्सिंग होम में भर्ती किया गया। बाद में उसे सिम्स रेफर कर दिया गया। ठीक एक महीने बाद आईसीयू में रीता निषाद ने दम तोड़ दिया।

                                     परिवेश ने बताया कि पुलिस ने विकास को भिलाई से गिरफ्तार किया था। कड़ाई से पूछताछ में विकास ने बताया था कि नकाबपोश बनकर रीता निषाद पर जानलेवा हमला उसी ने किया। तोरवा थाना प्रभारी ने आज बताया कि हमले के बाद रीता निषाद पिछले एक महीने से कोमा में थी। बीती रात उसने दम तोड़ दिया। जिसके चलते रीता का बयान नहीं लिया जा सका । पंचनामा कार्रवाई के बाद रीता निषाद का मर्ग कायम कर आरोपी पति विकास निषाद के खिलाफ 302 का मामला दर्ज किया गया है।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...