मेरा बिलासपुर

आश्वासन के बाद चक्का जाम खत्म…आप ने भी खोला मोर्चा

IMG-20151028-WA0005बिलासपुर– आज दिन भर बिलासपुर-रायपुर में राजेन्द्र की मौत को लेकर कांग्रेस ने स्थानीय लोगों के साथ बिल्हा में हाइवे पर चक्का जाम किया। दिन भर पुलिस और प्रशासन को कांग्रेसियों से जूझना पड़ा। कई बार वार्ता हुई लेकिन कोई हल नहीं निकला। कांग्रेस ने एफआईआर की मांग को लेकर एम्बुलेन्स को टस से मस होने नहीं दिया। इस दौरान बिलासपुर जिले के कांग्रेस दिग्गज भी चक्काजाम में सक्रियता दिखाते हुए प्रशासन के खिलाफ जमकर हल्ला बोला। मुख्यमंत्री के आश्वासन और जिला प्रशासन के वादे के बाद कांग्रेसियों ने शर्तों के साथ चक्काजाम को खत्म किया। जिला प्रशासन ने जांच के बाद एफआईआर दर्ज करने स्वीकार किया है। इसके साथ ही पीड़ित परिवार को 2 लाख का मुआवजा और इलाज के दौरान हुए खर्च को देने का एलान किया है।

                                                             आज बिल्हा मोड के पास पुलिस और कांग्रेस आमने सामने नजर आए। एम्बुलेन्स समेत राजेन्द्र के पार्थिव शरीर को कांग्रेसियों ने एक कदम भी आगे नहीं बढ़ने दिया। इस दौरान पुलिस और भीड़ में काफी तनाव के पल भी देखने को मिले। मुख्यमंत्री के आश्वासन के बाद भी भीड़ ने सड़क से हटाना मुनासिब नहीं समझा। कांग्रेसियों ने न्याय नहीं मिलते देख राजेन्द्र के शव को रेलवे ट्रैक पर रखकर हड़ताल करने का एलान कर दिया।

                      उग्र भीड़ और कांग्रेस के तेवर को देखने के बाद अंत में जिला प्रशासन ने घुटने टेकते हुए जांच के बाद अर्जुन सिसोदिया के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आश्वासन दिया। जिला प्रशासन ने मृतक परिवार के लिए दो लाख रूपए बतौर मुआवजा देने का एलान किया।साथ ही इलाज के दौरान आए खर्ज को वहन करना स्वीकार किया है। इस मौके पर कलेक्टर ने एसडीएम सिसोदिया को तत्काल प्रभाव से निलंबन किये जाने की जानकारी उपस्थित लोगों को दी।

सिम्स डीन दत्त सस्पेंड...नियुक्तियों और दवा खरीदी में की थी गड़बड़ी...डॉ.रमणेश को प्रभार

                     कांग्रेसियों के तेवर के सामने जिला प्रशासन ने अर्जुन सिसोदिया से पीड़ित होकर जेल में 20 दिन पहले किसान की मौत पर पीड़ित परिवार को दो लाख रूपए देने का एलान किया है। अंत में अमित जोगी समेत अन्य कांग्रेसियों ने चक्काजाम खत्म करने का एलान कर दिया है।

आम आदमी पार्टी का विरोधIMG-20151028-WA0007

                आम आदमी पार्टी ने राजेन्द्र की मौत को प्रशासनिक अत्याचार बताते हुए आज नेहरू चौक पर पोस्टर लेकर धरना प्रदर्शन किया। आम आदमी पार्टी नेता नीलोत्पल शुक्ला ने बताया कि भ्रष्टाचार और तानाशाही का एक युवक शिकार हो गया। इसी तरह और भी कई मामले हैं। जिन पर प्रशासन को ध्यान दिये जाने की जरूरत है। नीलोत्पल ने बताया कि अर्जुन सिसोदिया जहां भी रहे अपनी तानाशाही से लोगों को आंतक के साये में रखा। हमने इस बात को लेकर कई बार शासन प्रशासन का ध्यान आकृष्ट किया। बावजूद इसके प्राशासन ने कभी ध्यान नहीं दिया। यदि समय रहते ध्यान दिया जाता तो गरीब किसान और युवा नेता राजेन्द्र हमारे बीच में होता। आम आदमी पार्टी नेता ने बताया कि जब तक राजेन्द्र के हत्यारे को सजा नहीं मिलेगी पार्टी चुप नहीं बैठेगी। आप नेताओं ने जिला प्रशासन से मिलकर अर्जुन सिसोदिया के खिलाफ आपराधिक प्रकरण दर्ज करने की मांग की है।

                 नेहरू चौक पर आम प्रदर्शन के दौरान आम आदमी पार्टी के नेताओं ने सिसोदिया का पुतला भी दहन किया। प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। आने जाने वालों के सामने बैनर पोस्टर लेकर विरोध भी प्रदर्शन किया।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS