इंजीनियरों ने मांगा जनरल प्रमोशन.. बताया..संक्रमण के बीच परीक्षा देना मुश्किल..प्रभावित हो सकते हैं छात्र

बिलासपुर—- इंजीनियरिंग और पालिटेक्टनिक कालेज के छात्रों ने कोरोना संक्रमण के मद्देनजर जनरल प्रमोशन की मांग की है। जिला प्रशासन को लिखित निवेदन कर छात्रों ने बताया कि तकनिकी विश्वविद्यालय के छात्रों को जनरल प्रमोशन नही दिया गया है। विश्वविद्यालय प्रबंधन ने 15 जून को परीक्षा फार्म भरने का निर्देश दिया है। जबकि कोरोना संक्रमण के चलते ना तो सिलेबस पूरा हुआ है। और ना ही क्लासेस लगी है। ऐसी सूरत में परीक्षा का आयोजन न्यायसंगत नहीं होगा।

                  स्वामी विवेकानन्द तकनीकी विश्वविद्यालय के छात्र छात्राओं ने जिला कार्यालय पहुंचकर जनरल प्रमोशन की मांग की है। छात्र छात्राओं ने बताया कि विश्वविद्यालय प्रबंधन परीक्षा लेने की तैयारी कर रहा है। 15 जून को परीक्षा फार्म भरने की अंतिम तारीख है। इंजीनियरिंग के छात्र छात्राओं ने बताया कि लाकडाउन के बाद ज्यादातर छात्र छात्राएं अपने घर चले गए। ज्यादातर लोग गांव और दूसरे राज्यों के है। कोरोना संक्रमण के चलते राज्य और जिले की सीमाएं सील कर दी गयी है। इसके चलते छात्रों का पहुंचना मुश्किल है।

                    चूंकि समय कोरोना काल का है। छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण तेजी फैल रहा है। जिसके चलते लोग घरों में दुबके हुए है। छात्रों ने बताया कि लाकडाउन के कारण छात्र छात्राओं का सिलेबस पूरा नहीं हुआ है। ज्यादातर छात्र छात्राओं का असाइनमेन्ट भी अधूरा है। लाकडाउन के चलते प्रायोगिक परीक्षाएं भी नहीं हुई है। इन तमाम बातों को ध्यान में रखते हुए परीक्षा लिया जाना उचित नहीं होगा। 

                छात्रों ने बताया कि एक्सपर्ट के अनुसार आने वाले एक महीने कोरोना संक्रमण में तेजी की संभावना है। ऐसे में परीक्षा का लिया जाना खतरनाक है। हम में कोई भी एक व्यक्ति संक्रमित होने पर सभी लोग प्रभावित होंगे। इस दौरान किसी प्रकार की अनहोनी से इंकार भी नहीं किया जा सकता है।

             सरकार से मांग है कि जिस तरह नियमित विश्वविद्यालयों के छात्रों को शर्तों के साथ जनरल प्रमोशन दिया गया है। ठीक उसी तर्ज पर तकनिकी छात्र छात्राओं को जनरल प्रमोशन दिया जाए। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *