मेरा बिलासपुर

उप नगर निगम कार्यालय की मांग

IMG_20150908_133545बिलासपुर— मास्टर प्लान 2031 का विरोध और मीन मेख की प्रक्रिया जोरों पर है। प्रदेश कांग्रेस सचिव शिवा मिश्रा ने आज नगर और ग्रामीण निवेश विभाग को 12 बिन्दु वाला एक सुझाव सौंपा है। शिवा मिश्रा का दावा है कि यदि इन बिन्दुओं पर प्रशासन ने गौर किया तो शहर स्मार्ट सिटी की दिशा मे तेजी बढ़ेगा।

               प्रदेश कांग्रेस सचिव शिवा मिश्रा ने बताया कि नगर तथा ग्राम निवेश विभाग ने मास्टर प्लान 2031 को लेकर दावा आपत्ति और सुझाव मंगाया है। काफी सोचसमझकर संयुक्त संचालक के सामने अपने सुझाव और आपत्तियों को रखा है। यदि इस पर गौर किया गया तो मास्टर प्लान की काफी खामियां खत्म हो जाँएगी।

               शिवा मिश्रा ने बताया कि मास्टर प्लान को रसूखदारों ने अपने हित में तैयार करवाया है। मेरा मानना है कि यदि नगर की पुरानी बसाहट में एफ.ए.आर कम ना करते हुए उचित पार्किंग की व्यवस्था का होना बहुत जरूरी है। उन्होने कहा कि शहर से लगे ग्रामीण क्षेत्रों में जहां ओव्हरब्रिज का निर्माण हुआ है यदि उसके आस-पास अन्डब्रिज के निर्माण हो जाए तो ट्रैफिक समस्या बहुत हद तक हल जाएगी।

                   शिवा ने कहा कि विभाग को घनी आबादी के क्षेत्र में नजूल की भूमि को चिन्हांकित कर वहां ट्रांसफार्मर आदि को लगाने की व्यवस्था करनी चाहिए। मंगला,सत्यम,महाराणा प्रताप,अग्रसेन,नेहरू चौक में फुट ओव्हर ब्रिज की सबसे ज्यादा जरूरत है। उन्होंने बताया कि शहर का विस्तार सरकंडा क्षेत्र में तेजी हो रहा है इसलिए क्षेत्र में एक उप नगर निगम कार्यालय की आवश्यकता है।

           शिवा मिश्रा ने बताया कि शहर में खेलकूद को ध्यान में रखकर मास्टर प्लान तैयार नहीं किया गया है। मेरा मानना है कि शहर से 10-15 किलोमीटर के दायरे में अंतर्राष्ट्रीय हाकी और क्रिकेट मैदान बनाए जाने की सख्त जरूरत है। इससे ना केवल शासकीय जमीन का बेहतर प्रयोग होगा बल्कि खेल प्रतिभाओं को भी बढ़ावा मिलेगा।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS