देश के विकास में ऊर्जा और युवाओं की शक्ति–मोहन दास

personnelबिलासपुर–भारत युवाओं का देश है। देश की ऊर्जा आवश्यकताओं की आपूर्ति में लगे कोयला उद्योग में भी युवा प्रबन्धकों की महत्वपूर्ण भूमिका है । कोल इण्डिया लिमिटेड ने साल 2015- 16 में 536 मिलियन टन कोयले का उत्पादन किया है। पिछले साल 42 मिलियन टन अधिक है। 8 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है । कोल इंडिया निरंतर सुविधाओं के उन्नयन और प्रक्रियाओं के सरलीकरण की ओर  है। यह बातें एसईसीएल बिलासपुर के दौरे पर पहुंचे कोल इण्डिया लिमिटेड के निदेशक कार्मिक एवं औधोगिक आर मोहन दास ने कही ।

                               सीएमडी एसईसीएल बी आर रेड्डी और निदेशक कार्मिक डॉ आर एस झा के साथ मंथन कार्यक्रम में युवा अधिकारियों, क्षेत्रीय कार्मिक प्रबन्धकों एवं कार्मिक विभाग के विभागाध्यक्षों से मोहन दास ने संवाद किया। पूर्व सीएमडी एसईसीएल ने उपस्थितों को संबोधित करते हुए कहा कि समय के साथ  कोयला उद्योग में भी बदलाव आये हैं। हमें सकारात्मक सोच के साथ अपनी कार्यशैली में इन्हें अपनाना होगा । युवा अधिकारियों से मोहन दास ने कहा कि वे अपनी ऊर्जा का इस्तेमाल जवाबदेही में खर्च करने को कहा।

                     कार्यक्रम में उपस्थितों का स्वागत करते हुए निदेशक कार्मिक डॉ आर झा ने बताया कि प्रबंधन ने विशेष मंथन के जरिए युवा अधिकारी शीर्ष प्रबंधन से सीधे हम संवाद करते हैं । युवा अधिकारियों एवं प्रबंधन प्रशिक्षुओं को सलाह देते हुए उन्होने कहा कि कोल इण्डिया के मिशन 2019-20 तक उत्पादन को लगभग दुगना कर एक बिलियन टन पहुंचाना है। इसके लिए समेकित और व्यापक दृष्टिकोण रखना होगा।

                    कार्यक्रम के प्रारम्भ में प्रबंधन प्रशिक्षुओं और युवा अधिकारियों की टीम ने विभिन्न विषयों  पर पावर प्वाइंट प्रस्तुति दी ।खुले सत्र में विभिन्न क्षेत्रों और मुख्यालयों से पहुंचे विभिन्न विभागों के प्रबंधन प्रशिक्षु और अधिकारियों ने विचार एवं सुझाव रखे । मंथन कार्यक्रम में लगभग 150 अधिकारियों ने भाग लिया । कार्यक्रम का संचालन  हीना खान सहायक प्रबन्धक  कार्मिक ने किया ।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...