एएसपी पर दैहिक शोषण का आरोप…पीड़िता ने लिखा सीएम को पत्र…कहा..मेरे साथ अन्य महिलाओं को भी बचाएं

cg_policeबिलासपुर– दुर्ग में पदस्थ दलित महिला पुलिस कर्मचारी ने अपने अधिकारी पर यौन शोषण और ब्लैकमेलिंग का आरोप लगाया है। महिला पुलिस कर्मी ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर न्याय की गुहार लगाई है। महिला ने मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में बताया है कि दुर्ग एएसपी नवम्बर 2017 से लगातार दैहिक शोषण कर रहा है। अन्य महिला पुलिस कर्मचारियों के साथ भी अश्लील हरकत करता है। महिला के अनुसार एएसपी वर्दी में छिपा खतरनाक इंसान है। मुझे छुटकारा दिलाएं।

                            दुर्ग जिले में पदस्थ एक दलित महिला पुलिस ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर एक एएसपी पर एक साल से अधिक दैहिक शोषण करने का आरोप लगाया है। महिला पुलिस कर्मचारी ने बताया कि एएसपी ने नवम्बर 2017 से लगातार दैहिक शोषण कर रहा है। नवम्बर 2017 में एएसपी शशिमोहन सिंंह ने जबरदस्ती शारीरिक संबध बनाया। इस दौरान उसने मेरे साथ आपत्तिजनक स्थिति में फोटो खींचा और वीडियो भी बनाया। इसके बाद वह लगातार दैहिक शोषण कर रहा है। विरोध करने पर जान से मारने, बदनाम करने और झूठे साजिश में फंंसाने की धमकी देता है।

                    दलित महिला पुलिस कर्मी ने मुख्यमंत्री को बताया है कि शशिमोहन सिंह खतरनाक अधिकारी है। वर्दी का गलत इस्तेमाल कर रहा है। मेरे अलावा विभाग की अन्य महिला पुलिस कर्मचारियों के साथ भी अश्लील हरकत करता है। लेकिन बदनामी और नौकरी के डर से कोई कुछ नहीं बोलते हैं।

            महिला के अनुसार दलित समाज है। लगातार दैहिक शोषण से मेरी मानसिक स्थिति लगातार बिगड़ती जा रही है। मैं कुंठित महसूस कर रही हूं। मुझे न्याय कैसे मिलेगा कुछ समझ में नहीं आ रहा है। मेै नौकरी छोड़ भी नहीं सकती हूं। गरीब परिवार से होने के कारण मुझ पर बूढे माता पिता और छोटे भाई बहनों की जिम्मेदारी भी है। बदनामी और पारिवारिक परिस्थियों के कारण कुछ समझ में नहीं आर रहा है। कई बार आत्महत्या की भी सोची। लेकिन जिम्मेदारियों के कारण यह भी संभव नहीं हुआ।

                     महिला ने मुख्यमंत्री से कार्यवाही की मांग करते हुए अन्य मजबूर महिलाओं को एएसपी से बचाने की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *