मेरा बिलासपुर

एकता..समानता और भाईचारा का नाम एकात्म मानववाद..साय

DSC_2698 DSC_2708 बिलासपुर—पूरे विश्व में अशांति, अराजकता, वर्ग संघर्ष और हिंसा का माहौल है। ऐसे नाजुक समय में विश्व को एकात्म मानववाद जैसी विचारधारा की सख्त जरूरत है।  विश्व में शांति, एकता, समता और विश्व बंधुतत्व कायम हो…सभी लोग प्रेम और भाईचारे के साथ रहें। यह बातें भाजपा प्रदेश संगठन महामंत्री और व्याख्यान कार्यक्रम के मुख्यवक्ता पवन साय ने पं.दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी वर्ष कार्यक्रम में कही।
                     व्याख्यान माला कार्यक्रम में शहर के बुद्धिजीवी वर्गों ने हिस्सा लिया। कार्यक्रम का आयोजन पं.देवकीनंदन दीक्षित सभा गृह लाल बहादुर शास्त्री स्कूल में हुआ।
                     पवन साय ने कहा कि पं.दीनदयाल उपाध्याय के अनुसार जहाॅ एकता, समता और बंधुतत्व है वही एकात्म माननवाद का दर्शन होता है। एकात्म मानववाद ऐसी विचारधारा है जो मनुष्य को जीना सिखाती है। ऐसे समाज का उदय करती है जहाॅ एकता..समानता…और भाई चारे की भावना हो। एकात्म को हम अविभाज्य या एकीकरण भी कह सकते है। इसका मतलब है कि एक ऐसा समाज जहाॅ किसी प्रकार का विभाजन न हो। मानववाद का मतलब जो मानव मात्र के मूल्यों और संबंधित मसलों को लेकर है।
               साय ने कहा कि एकात्म मानववाद का दूसरा नाम भरोसा है। मानवता के प्रति लोगों को आकर्षित करती है। एकात्म मानववाद दर्शन के अनुशरण से समाज में किसी भी प्रकार के संघर्ष के लिए जगह नही बचता है।

                   DSC_2720     कार्यक्रम के मुख्यअतिथि नगरीय प्रशासन मंत्री अमर अग्रवाल ने कहा कि भारत में अब एक राष्ट्र एक कर का सपना साकार हो गया है। जीएसटी 1 जुलाई 2017 से लागू कर दिखाया। जीएसटी कराधान संरचना को आसान बनाने और व्यापक करों को खत्म के लिए लाया गया है। इससे देश में विकास के अनेकों नये द्वार खुल गए हैं। आने वाले समय में उत्पादकता और व्यापार की सुगमता को बढ़ावा मिलेगा। अग्रवाल ने कहा कि विश्व के 160 देशों में एक मात्र भारत ही देश है जहाॅ जी.एस.टी. लागू होने के कुछ ही दिनों में आम उपभोक्ता वस्तुओं के दर में रिकार्ड गिरावट आयी है।

                                                                 कार्यक्रम को भाजपा प्रदेशाध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने भी संबोधित किया। उन्होने कहा कि पं.दनदयाल उपाध्याय दार्शनिक, अर्थशास्त्री, समाज शास्त्री, इतिहासकार और पत्रकार भी थे।राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के निर्माण में अहम भूमिका निभाई। उन्होने अदभूत कार्य क्षमता के बल पर एक साथ कई भूमिकाओं को सफलता के साथ निभाया।

                   भाजपा जिलाध्यक्ष रजनीश सिंह ने व्याख्यान माला को संबोधित किया। एकात्म मानववाद के दर्शन को आधुनिक संदर्भ में पेश किया। कार्यक्रम में गृह निर्माण मंडल अध्यक्ष भूपेन्द्र सवन्नी, महापौर किशोर राय समेत भाजपा के सभी प्रकोष्ठों के नेता और कार्यकर्ता मौजूद थे।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS