एक्शन में जेपी नड्डा, केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह को विवादास्पद टिप्पणियों को लेकर भेजा नोटिस

नईदिल्ली।अपने बयानों से चर्चा में रहने वाले केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) के कद्दावर नेता गिरिराज सिंह (Giriraj Singh) के हालिया विवादित टिप्पणियों से पार्टी हाईकमान नाराज हो गया है. कहा जा रहा है कि बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) उनकी विवादास्पद टिप्पणियों को लेकर गिरिराज सिंह से खफा हैं. जिसके बाद उन्होंने केंद्रीय मंत्री को नोटिस भी जारी किया है. सीजीवालडॉटकॉम के व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक कीजिए

गौरतलब है कि हालिया दिनों में केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कई विवादित बयान दिए थे. बीते मंगलवार को केंद्रीय मंत्री ने उत्तर प्रदेश के देवबंद को ‘आतंकवाद की गंगोत्री’ बताया था. उन्होंने कहा था, ‘देवबंद आतंकवाद की गंगोत्री है, जहां से मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद जैसे लोग निकलते हैं.’ गिरिराज सिंह सीएए के समर्थन में आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल होने सहारनपुर आए थे. उन्होंने ने सीएए विरोधी आंदोलन को देश विरोधी आंदोलन करार दिया था.

केंद्रीय मंत्री के इस बयान पर विवाद भी खड़ा हो गया था. केंद्रीय मंत्री के बयान पर टिप्पणी करते हुए कांग्रेस नेता और पूर्व विधायक इमरान मसूद ने कहा था कि गिरिराज सिंह घृणा में इस हद तक अंधे हो चुके हैं कि उन्होंने पवित्र शब्द ‘गंगोत्री’ का भी अपमान किया. सहारनपुर से सांसद हाजी फजलुर रहमान ने भी सिंह के बयान की निंदा की और कहा कि देवबंद स्वतंत्रता सेनानियों की ‘कर्मभूमि’ रहा है. उन्होंने कहा कि देवबंद के उलेमाओं ने स्वतंत्रता की खातिर अपने जीवन का बलिदान दिया और जेल गए.

इससे पहले गिरिराज सिंह ने शाहीनबाग को लेकर निशाने पर लेते हुए कहा था कि यहां आत्मघाती बम हमलावरों का जत्था बनाया जा रहा है. गिरिराज ने प्रदर्शनकारियों पर निशाना साधते हुए एक महिला के भाषण का वीडियो सोशल मीडिया पर साझा किया था. उन्होंने एक अन्य वीडियो साझा करते हुए कहा था कि बच्चों के दिमाग में जहर भरा जा रहा है.

उन्होंने ट्विटर पर लिखा, ‘यह शाहीन बाग अब सिर्फ आंदोलन नहीं रह गया है. यहां सुसाइड बॉम्बर का जत्था बनाया जा रहा है. देश की राजधानी में देश के खिलाफ साजिश हो रही है.’ उन्होंने दावा किया था कि शाहीन बाग में भारत को इस्लामिक देश बनाने को लेकर भाषण दिये जा रहे हैं. उन्होंने कहा था कि इसने उन्हें पाकिस्तान के लिये जिन्ना के आंदोलन की याद दिला दी.

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *