मेरा बिलासपुर

एलईडी चोर गिरोह का पर्दाफाश…पकड़ में आए सात आरोपी

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

IMG-20150902-WA0003बिलासपुर— बिलासपुर की तोरवा पुलिस ने आज बड़ी कार्रवाई करते हुए चोरी की सैमसंग एलईडी टीवी बेचने के आरोप में मुख्य सरगना समेत सात आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों की निशानदेही पर सात विभिन्न जगहों से 8 एलईडी भी बरामद किया गया है। जिसकी कीमत लगभग तीन लाख रूपए बतायी जा रही है।

               बिलासपुर रेंज आई जी और पुलिस कप्तान को लगातार मिल रही शिकायत के बाद और दिशा निर्देश पर तोरवा पुलिस ने एलईडी टीवी चोरी करने वाले गैंग का आज पर्दाफाश किया है। तोरवा पुलिस को मुखबिर ने फोन से सूचना दी कि लालखदान क्षेत्र में कमलेश नाम का एक आरोपी सैमसंग एलईडी टीवी सस्ते दाम में खपाने के फिराक में घूम रहा है। पुलिस कप्तान के निर्देश पर प्लान के अनुसार तोरवा पुलिस ने लालखदान क्षेत्र से कमलेश को एलईडी के साथ गिरफ्तार किया। पूछताछ के बाद उसने बताया कि वह ईमलीपारा स्थित सैमसंग की शो एजेंसी में काम करता है। शो रूम के एक अन्य कर्मचारी शैलेन्द्र त्रिवेदी के सहयोग से चोरी से उसने एलईडी लाया और खपाने का प्रयास कर रहा था।

           सख्ती से पूछताछ के बाद कमलेश ने बताया कि वह अपनी साथियों के साथ अब तक आठ एलईडी शो रूम से चोरी कर बेच चुका है। तफ्तीश के बाद पुलिस ने पाया कि ईमलीपारा स्थित शो रूम में कमलेश काम करता है और अपने सहयोगी शैलेन्द्र त्रिवेदी के साथ एलईडी चोरी कर ग्रामीणों को सस्ते दाम में बेचता है। पुलिस ने शैलेन्द्र को गिरफ्तार कर लिया है।

             कमलेश श्रीवास्तव के बयान के आधार पर पुलिस ने लालखदान से बीरबल पिता जोगन चौहान उम्र 22 साल दिनेश पिता सुंदर लाल साहू उम्र 25 साल,कमलेश पिता राम खिलावन केवट उम्र 24 साल,राजेश पाल पिता कन्हैया पाल उम्र 25 साल,अमित ऊर्फ गोलू पिता महेश कुमार उम्र 24 साल, को अलग-अलग कंपनियों की एलईडी के साथ गिरफ्तार किया है। इनके खिलाफ धारा 42-1-4 के तहत मामला दर्ज कर अग्रिम कार्रवाई के लिए न्यायालय भेज दिया गया है।

उत्तरप्रदेश से लाकर, ऊंची कीमत में मौत बेचते तीन पैडलर गिरफ्तार.10 ग्राम कीमती एक्सटेसी बरामद.

         मालूम हो कि शो रूम का कर्मचारी कमलेश श्रीवास्तव गोदाम से अलग-अलग कंपनियों की एलईडी चोरी कर ग्रामीणों को बिना दस्तावेज के सस्ते दामों में बेचता था।

Back to top button
close