एसईसीेएल मतलब कोलइण्डिया की प्रमुख शक्ति…सुतीर्थ भट्टाचार्य

Press Photo Chairman 20-05-17 2बिलासपुर–कोलइण्डिया चेयरमैन भारतीय प्रशासनिक सेवा अधिकारी सुतीर्थ भट्टाचार्य ने एसईसीएल का दौरा किया। रायपुर में कर्मचारियों के साथ बैठक उन्होने जरूरी दिशा निर्देश दिया। इस दौरान निदेशक विपणन/कार्मिक-औद्योगिक संबंध एस.एन. प्रसाद, एसईसीएल सीएमडी बी.आर. रेड्डी, एसईसीएल निदेशक वित्त ए.पी. पण्डा, निदेशक तकनीकी संचालन कुलदीप प्रसाद, निदेशक तकनीकी योजना/परियोजना पी.के. सिन्हा, एसईसीएल मुख्यालय के विभिन्न विभागाध्यक्षों, क्षेत्रीय मुख्य महाप्रबंधकों की मौजूदगी में कार्यों की समीक्षा की।
           समीक्षा बैठक के दौरान कोलइण्डिया चेयरमेन सुतीर्थ भट्टाचार्य ने कहा कि देश की ऊर्जा आवश्यकताओं की पूर्ति में कोल इंडिया हमेशा की तरह सक्रिया है। समग्र उत्पादन में वृद्धि दर्ज की गयी है। कोलइण्डिया ने सत्र 2017-18 में एसईसीएल को 165 मिलियन टन कोयला उत्पादन का लक्ष्य दिया है। पूरा विश्वास है कि यहाॅं के अधिकारी कर्मचारी,  श्रमसंघ के प्रतिनिधि लक्ष्य को आसानी से हासिल कर लेंगे।
              सुतीर्थ भट्टाचार्य ने कहा कि कोयला उत्पादन के साथ ही कोयला डिस्पैच के लक्ष्य को हासिल करने पर जोर दिया जाए। उन्होने एसईसीएल के विभिन्न परियोजनाओं के सुचारू रूप से संचालित करने के लिए राज्य शासन से सहयोग लेने का सुझाव दिया । भट्टाचार्य ने कहा कि एसईसीएल कोल इंडिया की प्रमुख शक्ति है। यहां विकास की असीम संभावनाएॅं हैं । समीक्षा बैठक के दौरान कोल इण्डिया चैयरमैन ने सभी अधिकारियों से फेस टू फेस संवाद भी किया।
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...