करामाती विजीलेन्स रिपोर्ट..पिता के बाद बेटा को कंवर मानने से इंकार..पढ़ें मरवाही निर्वाचन अधिकारी का आदेश.. कांग्रेसे के वकील ने क्या कहा

बिलासपुर—जीपीएम जिला निर्वाचन आयोग ने अन्ततः अमित जोगी का नामांकन फार्म रद्द कर दिया। निर्वाचन अधिकारी ने स्क्रूटनी के दौरान वाद विवाद के बीच स्पष्ट किया कि चूंकि उच्च स्तरीय छानबीन समिति की रिपोर्ट में अजीत जोगी को कंवर नहीं माना गया है। मामले में समीरा पैकरा और संतकुमार नेताम ने भी जोगी की जाति को लेकर शिकायत की थी। जिला स्तरीय छानबीन समिति ने भी अमित जोगी को दस्तावेजों के आधार पर कंवर जाति का नहीं पाया है। इसलिए अमित जोगी की जाति प्रमाण को निरस्त किया गया। मामले की जानकारी एक दिन पहले राज्य निर्वाचन आयोग से लिखित में मिली है। इस बात को ध्यान में रखते हुए मरवाही सीट से अमित जोगी के नामांकन फार्म को आयोग्य पाते हुए रद्द किया गया है।

                    मामले में कांग्रेस प्रत्याशी की तरफ से कांग्रेस विधि प्रकोष्ठ  नेता संदीप दुबे और उर्मिला मार्को की तरफ से सुदीप श्रीवास्तव ने जोगी को कंवर नहीं होने के सारे दस्तावेज पेश करत हुए नामांकन फार्म निरस्त करने का दबाव बनाया। इस दौरान जोगी ने भी कंवर होने के तमाम प्रमाण पेश किए। बावजूद इसके संतोषप्रद तर्क और दस्तावेज नहीं पेश किए जाने पर आयोग ने छानबीन समिति और कांग्रेसी वकीलों की दलीलों को ध्यान में रखते जोगी का नामांकन फार्म  निरस्त किया। आयोग ने स्पष्ट किया कि चूकि मरवाही सीट अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित है। उच्च स्तरीय छानबीन समिति के अनुसार अजीत जोगी आदिवासी नहीं है। जाहिर सी बात है कि अमित जोगी भी आदिवासी नहीं होंगे। इसलिए अमित जोगी मरवाही से चुनाव नहीं लड़ सकते हैं।

               कांग्रेस नेता और विधि विभाग प्रदेश अध्यक्ष संदीप दुबे ने बताया कि जिला निर्वाचन अधिकारी के आदेश के अनुसार जाति प्रमाण बनाने के लिए जरूरी दस्तावेजों की जरूरत होती है। जाति प्रमाण पत्र जारी करने से पहले नियम 3 (3) (ड.) कालम 10 के अनुसार पिता पूर्वज और रिशेतेदार समेत दास्तावेजों को खंगाला जाता है। सत्यापन के बाद जाति प्रमाण पत्र जारी किया जाता है। चूंकि आवेदक का पिता कंवर नहीं है जाहिर सी बात है कि अमित जोगी भी आदिवासी नहीं है। छानबीन समिति की रिपोर्ट में निर्वाचन आयोग को जानकारी दी गयी कि ऋचा जोगी भी आदिवासी नहीं है। इस आधार पर दोनों का नामांकन रद्द किया गया है।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...