हमार छ्त्तीसगढ़

करीना की मौजूदगी में बालिकाओँ और शिक्षिकाओँ को छत्तीसगढ़ रत्न अलंकरण

karina

रायपुर ।     मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने शुक्रवार को यहां बाल अधिकार सम्मेलन सप्ताह के समापन समारोह में प्रदेश के 28 शिक्षा जिलों के 36 विभिन्न स्कूलों की 31 प्रतिभावान बालिकाओं और पांच शिक्षिकाओं को ‘छत्तीसगढ़ रत्न’ अलंकरण से सम्मानित किया। मुख्य अतिथि की आसंदी से समारोह को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार बेटीयों का सम्मान बढ़ाने के लिए वचनबद्ध है और इसके लिए हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि बच्चों के अधिकारों के संरक्षण की जिम्मेदारी सरकार के साथ-साथ समाज की भी है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि यह छत्तीसगढ़ के लिए गौरव की बात है कि छत्तीसगढ़ में लिंगानुपात देश में केरल के बाद सबसे बेहतर है। समारोह की अध्यक्षता स्कूल शिक्षा मंत्री  केदार कश्यप ने की। महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती रमशिला साहू, संसदीय सचिव द्वय श्रीमती रूपकुमारी चौधरी,  अम्बेश जांगड़े, छत्तीसगढ़ राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग की अध्यक्ष श्रीमती शताब्दी पाण्डेय और रायपुर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष  संजय श्रीवास्तव विशेष अतिथि के रूप में समारोह में उपस्थित थे। समारोह में यूनीसेफ की ओर से फिल्म अभिनेत्री  करीना कपूर भी विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित थीं।
मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने समारोह में स्कूलों में बच्चों और शिक्षिकों की उपस्थिति की ऑनलाईन मॉनिटरिंग के लिए वेब आधारित एप्लीकेशन ‘सीजी एज्युट्रैक’ का शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री ने समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि बालिकाओं सहित बच्चों को शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करने के उददेश्य से अनेक योजनाएं राज्य सरकार द्वारा संचालित की जा रही है। बस्तर से सरगुजा तक बेटियों को बेहतर आवासीय सुविधाएं प्रदान की जा रही हैं। बेटियों को कक्षा एक से बारह तक निःशुल्क शिक्षा और गरीब परिवार के बेटियों को उच्च शिक्षा बीए, बीएससी मेडिकल और इंजीनियरिंग की पढ़ाई के निःशुल्क व्यवस्था की गयी है। उन्होंने कहा कि शिक्षा सहित समाज के सभी क्षेत्रों के छत्तीसगढ़ की बेटियों ने अपना सम्मानजनक स्थान बनाया है। उन्होंने कहा कि भ्रूण हत्या और बाल विवाह जैसी सामाजिक बुराईयों को रोकने के लिए राज्य वचनबद्ध है। उन्होंने कहा कि बाल अधिकारों के संरक्षण के लिए देश भर में चलाया जा रहा यह अभियान अवश्य सफल होगा।

यूनीसेफ की क्षेत्रीय सेवा प्रमुख फरोजाद ने भी समारोह को सम्बोधित किया। आभार प्रदर्शन यूनीसेफ के  प्रसन्ना दास ने किया। इस अवसर पर रायपुर स्थित जे.आर.दानी कन्या उच्चत्तर माध्यमिक विद्यालय की छात्राओं ने लोक नृत्य प्रस्तुत किया। इस अवसर पर बड़ी संख्या में विभिन्न स्कूलों की छात्राएं, अनेक जनप्रतिनिधि और अधिकारी उपस्थित थे।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS