मेरा बिलासपुर

कांग्रेसः अडानी को नहीं देगे दगोरी की जमीन

IMG_20150722_140625बिलासपुर— जिला कांग्रेस की टीम ने आज कलेक्टर से मिलकर दगोरी मामले में सारी सच्चाई सामने लाने की बात कही है। कांग्रेस नेताओं ने आज कलेक्टर से मुलाकात कर बताया कि जिस प्रकार का नक्शा जमीन अधिग्रहण करने को लेकर दिखाया जा रहा है उससे यह साबित होता है कि किसी बड़़े नेता की जमीन को लाभ पहुंचाने के लिए अधिकारी काम कर रहे हैं। कलेक्टर ने कांग्रेसियों से बताया कि सारा मामला पारदर्शी तरीके से होगा। आप लोग भी अपनी शिकायत रख सकते हैं। जरूरत पड़ने पर जांच भी किया जाएगा।

                              जिला कांग्रेस ने आज कलेक्टर से मिलकर बताया कि जिस प्रकार से जमीन अधिग्रहित किया जा रहा है उससे जाहिर होता है कि सरकार प्रभावशाली लोगों के इशारे पर दगोरी में पूंजीपतियों के लिए जमीन अधिग्रहित कर रही है। राजेन्द्र शुक्ला ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि दो हजार एकड़ जमीन अधिग्रहण करने का जिला प्रशासन ने नक्शा  पारित कर दिया है। इसके साथ ही यह भी शिकायत मिली है  कि कुछ लोगों की जमीनों को नक्शे में शामिल नहीं किया गया है। जाहिर सी बात है कि यह जमीन किसी रसूखदार की होगी। राजेन्द्र शुक्ला ने बताया कि अभी तक यह स्पष्ट नहीं किया गया है कि आखिर दगोरी में किस प्रकार का प्लांट स्थापित किया जाएगा। कोई कहता है कि यहां मेगा पावर प्लांट लगेगा तो कोई कहता है यहां ओद्योगिक परिक्षेत्र स्थापित किया जाएगा।

                       शुक्ला ने बताया कि जिन 9 गावों की जमीन को अधिग्रहित किया जाना है उसके लिए जिला प्रशासन ने अभी तक प्रभावित किसानों को सूचना तक नहीं दिया है। जिला प्रशासन ने अभी तक गांव के जनप्रतिनिधियों से इस मसले पर चर्चा भी करना मुनासिब नहीं समझा है। बावजूद इसके गैर वैधानिक तरीके से जमीन को अधिग्रहित कर प्रभावितों को अंधेरे में रखा जा रहा है। जाहिर सी बात है कि शासन निस्तार पत्रक में प्रविष्टी को बदला हुआ दिखाया जा रहा है। शुक्ला ने कहा कि जानकारी के अनुसार प्रभावित किसानों की जमीनों को शासकीय दर पर खरीदा जाना तय हुआ है। बाद में इस जमीन को ऊंचे दर बेचा जाएगा। लेकिन हम ऐसा नहीं होने देंगे।

कांग्रेस पार्षद उम्मीदवारों के नाम तय करेगी वार्ड समिति, तखतपुर में पर्यवेक्षक ने कहा - बाग़ी उम्मीदवारों पर होगी तत्काल कार्रवाई

                                                किसान प्रकोष्ठ के  प्रदेश अध्यक्ष ने बताया कि  मोदी अपने पूंजीपति आकाओं का ऋण चुकाने के लिए किसानों से औने पौने दाम में जमीन खरीदकर देना चाहते हैं। हम बनियागिरी नहीं होने देंगे। पाण्डेय ने बताया कि मोदी खुद कहते हैं कि मै व्यापारी हूं। इसलिए उनसे किसानों के दर्द का अहसास करना मूर्खता है। बावजूद इसके हम बताने चाहते हैं कि यदि मैगा पावर प्लांट या फिर बेईमानी से जमीन का लिया गया तो कांग्रेस उग्र आंदोलन करेगी। जमीन अधिग्रहण के खिलाफ शिकायत करने पहुंचे कांग्रेस नेताओं में अटल श्रीवास्तव,राजेन्द्र शुकला, अभयनारायण राय, शेख गफ्फार,नरेन्द्र बोलर,पंकज सिंह,विजय सिंह आदि प्रमुख नेता शामिल थे।

 दगौरी में अडानी को बसाने की साजिश

                    दगोरी में क्या खोला जाएगा अभी तक शासन ने स्प्ष्ट नहीं किया है। लेकिन जमीन अधिग्रहित करने का नक्शा तैयार हो चुका है। कुछ रसूखदारों की जमीन को छोड़कर गरीब किसानों को भूख से मारने का खाका तैयार हो चुका है। सरकारी दर पर गरीब किसानों की अमीर धरती को खरीदा जाएगा। हम ऐसा नहीं होने देंगे। यहां अडानी को नहीं आने देंगे।

                                                                                     राजेन्द्र शुकला…जिला कांग्रेस अध्यक्ष ग्रामीण बिलासपर

कोल माफियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई....दो कोल डिपो संचालक गिरफ्तार...एसपी के आदेश से दोनों कोल डिपो सील

जमीन अधिग्रहण में होगी पारदर्शिता

                   कांग्रेस नेताों ने जमीन अधिग्रहण को लेकर तय मापदण्डों को लेकर जानकारी मांगी है। विभाग अपना काम कर रहा है। जमीन अधिग्रहण औद्योगिक परिक्षेत्र स्थापित करने के लिए किया जाएगा। यहां मेगा पावर प्लांट जैसी योजना स्थापित नहीं होगी। कांग्रेसियों से हमने आश्वासन दिया है कि विरोध है लेकिन सर्वसम्मति के बाद ही जमीन का अधिग्रहण किया जाएगा। किस दर जमीन लेंगे इसकी भी जानकारी सभी को दी जाएगी।

                                                                    सिद्धार्थ कोमल सिंह परदेशी..जिला कलेक्टर बिलासपुर

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS