मेरा बिलासपुर

कांग्रेसियोंं ने की निंदा…कहा..हिन्दू रीति से होना चाहिए विसर्जन…भाजपाइयों ने किया अटल की भतीजी का अपमान

बिलासपुर—जिला शहर कांग्रेस कमेटी स्वर्गीय अटल बिहारी बाजपेयी के अस्थि कलश को एकात्म परिसर में रखे जाने को लेकर आयोजित बैठक में जिला शहर कांग्रेस ने निंदा प्रस्ताव पारित किया है। बैठक को जिला अध्यक्ष विजय केशरवानी शहर अध्यक्ष नरेंद्र बोलर प्रदेश महामंत्री अटल श्रीवास्तव ने बैठक को संबोधित किया।इस दौरान सभी कांग्रेसियों ने एक सुर में निंदा प्रस्ताव का समर्थन किया।

                कांग्रेस नेताओं ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह छत्तिसगढ के मुख्यमंत्री रमन सिंह को लोकतंत्र में भरोसा नहीं है। इसलिए गोवा छत्तिसगढ समेत विधायक खरीदफरोख्त कर रहे हैं। अपने आप को हिन्दू वादी पार्टी कहने वाले लोग स्व अटल जी की अस्थि कलश को राजनितिक फायदे के लियें घुमा कर प्रदेश भाजपा कार्यालय में रख कर भूल गए।

             जब 16 अक्टूबर को स्वर्गीय अटल जी की भतीजी कांग्रेस नेत्री पूर्व सांसद करुणा शुक्ला और अन्य कांग्रेस नेता भाजपा कार्यालय पहुँच कर अस्थि कलश की मांग की। कांग्रेस नेताओं ने कहा कि अस्थि कलश को हिन्दू रीति रिवाज से विसर्जित कर सकें। लेकिन भारतीय जनता पार्टी के पदाधिकारियों ने करुणा शुक्ला समेत कांग्रेसियों से दुर्व्यवहार किया। कांग्रेस पार्टी इसकी निंदा करती है।

                बैठक में कांग्रेस नेताओं ने कहा कि हिन्दू रीति रिवाज के अनुसार अस्थि कलश को नदी में विसर्जित किया जाता है। ऐसा नहीं करने की स्थिति में तालाब किनारे पीपल के पेड़ पर कलश रखने की रीति है।

                बैठक में जिला अध्यक्ष विजय केशरवानी, शहर अध्यक्ष नरेंद्र बोलर, प्रदेश महामंत्री अटल श्रीवास्तव, नेता प्रतिपक्ष शेख नजरुद्दीन, राजेश पाण्डेय, चन्द्र प्रदीप बाजपेयी, अजय पंत. प्रशांत तिवारी, विनोद साहू, दिनेश सूर्यवंशी, सुभाष सराफ, पुनीराम मंगेशकर, जहूर अली, उदय सिंह, मनीष बघेल, रविन्द्र सिंह, योगेश ,  सौरभ, एस.पी.चतुर्वेदी, हजारीलाल,अनिल चेलकर, शिव कुमार, नर्मदा, अकबर अली, करन दास, मनीष पाण्डेय, रफीक खान, आदि उपस्थित थे।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS