कांग्रेसियों का आरोप…भाजपा नेता कर रहे आचार संहिता का उल्लंघन…स्मार्ट सिटी लोगों का हुआ गलत उपयोग

बिलासपुर—कांग्रेस कमेटी ने भाजपा के पन्ना प्रमुख सम्मेलन में स्मार्ट सिटी के प्रतीक चिन्ह “हमर बिलासपुर” के दुरुपयोग पर आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन होना बताया है। जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष विजय केशरवानी,नरेन्द्र बोलर,नजरूद्दीन, शैलेन्द्र जायसवाल ने संयुक्त प्रेस नोट जारी कर कहा कि आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद राजनीतिक दलों की तरफ से शासन की योजनाओं और नीतियों का प्रचार प्रसार पर प्रतिबंध रहता है। बावजूद इसके भाजपा प्रत्याशी के कार्यक्रम में हमर बिलासपुर “स्मार्ट सिटी का प्रतीक चिन्ह का उपयोग किया जाना उचित नहीं है।
           कांग्रेस नेताओं ने स्मार्ट सिटी के प्रतीक चिन्ह हमर बिलासपुर के उपयोग पर एतराज किया है। मामले को जिला निर्वाचन अधिकारी के संज्ञान में लाने की बात कही है। कांग्रेसियों ने कहा कि स्मार्ट सिटी केंद्र और राज्य शासन की संयुक्त योजना है। जबकि आचार संहिता में सरकारी योजनाओं का जिक्र और चुनावी इस्तेमाल पर पाबंदी रहती है। बावजूद इसके भाजपा प्रत्याशी के कार्यक्रम में स्मार्ट सिटी लिमिटेड के लोगों का इस्तेमाल किया जा रहा है। यह जानते हुए भी कि”हमर बिलासपुर”के लोगो को पूरे शहर में केंद्र और राज्य शासन की राशि से लगाया गया है।
           विजय केशरवानी,नरेन्द्र बोलर और अन्य कांग्रेसियों ने कहा कि भाजपा के राजनीतिक कार्यक्रम के बैनर में हमर बिलासपुर के लोगों का इस्तेमाल किया गया है। निश्चित रूप से आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन है। स्मार्ट सिटी के प्रतीक चिन्ह “हमर बिलासपुर”को राजनीतिक फायदे के लिए उपयोग किया जा रहा है। इससे जाहिर होता है कि स्थानीय प्रत्याशी अमर अग्रवाल और भारतीय जनता पार्टी के नेता कांग्रेस की मजबूत स्थिति को देखकर परेशान हैं।
                     कांग्रेसियों ने कहा कि शासन की योजनाओं का दुरुपयोग करने का अधिकार खासकर आचार संहिता लगने के बाद किसी भी दल या सरकार को नहीं है। मामले को चुनाव आयोग के सामने लाया जाएगा। भारतीय जनता पार्टी प्रत्याशी के खिलाफ उचित कदम उठाए जाने की मांंग की जाएगी। विजय केशरवानी ने बताया कि 25 अक्टूबर सभी कांग्रेसी आपत्ति दर्ज कराएंगे।
            जिला  कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष विजय  केशरवानी समेत शहर अध्यक्ष नरेन्द्र बोलर, नेता प्रतिपक्ष शेख नजीरुद्दीन,पार्षद दल प्रवक्ता समेत सभी कांग्रेसियों ने मामले में चुनाव आयोग से हस्तक्षेप करने की मांग की है।
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...