कांग्रेसियों की विस्तारित बैठक..भाजपा पर चोट…2018 को बनाया लक्ष्य

IMG-20160801-WA0298 बिलासपुर—स्थानीय कांग्रेस भवन में जिला शहर कांग्रेस कमेटी विस्तारित बैठक हुई। बिलासपुर जिला प्रभारी, पूर्व सांसद पी.आर. खूंटे और करूणा शुक्ला विशेष रूप से उपस्थित थी। इस दौरान नेताओं ने मिशन 2018 पर गहन विचार विमर्श किया। संगठन को मजबूत बनाने पर भी चर्चा हुई।

                विस्तारित बैठक में जिला शहर कांग्रेस कमेटी, ब्लाक कांग्रेस कमेटी एक और दो के पदाधिकारियों को खूंटे और करूणा शुक्ला ने नियुक्ति पत्र देते हुए संगठन को मजबूत बनाने को कहा। पूर्व सांसद करूणा शुक्ला ने उपस्थित लोगों से कहा कि शहर कांग्रेस कमेटी से पदाधिकारियों को नियुक्ति पत्र दिया जाना, उनकी कार्य कुशलता, योग्यता और क्षमता को जाहिर करता है। हमें कांग्रेस की रीति-नीति सिद्धांतों के संवर्धन और संरक्षण को लेकर कमर कसकर तैयार रहना होगा।

                     जिला प्रभारी पूर्व सांसद पी.आर. खूंटे ने कहा कि कार्यकर्ताओं को मिशन 2018 को ध्यान में रखकर मजबूती से काम करना होगा। कार्यकर्ता ही कांग्रेस की ताकत हैं। कार्यकर्ताओं की सक्रियता से ही पार्टी की जीत सुनिश्चित होगी।

                            प्रदेश महामंत्री अटल श्रीवास्तव ने कहा कि संगठन की इतिहास में पहली बार पदाधिकारियों को नियुक्ति पत्र दी जा रही है। नियुक्ति पत्र पदाधिकारियों को अपने कार्य के प्रति सजग करेगा। गर्व का अनुभव भी कराएगा। अटल ने कहा कि कांग्रेस देश की इकलौती पार्टी है जिसका अपना गौरवशाली इतिहास है। हमें अपने इतिहास को साक्षी मानकर देश की एकता,अखण्डता और दीन दुखियों के लिए तन मन धन से अपने आपको तैयार रखना होगा।

                      शहर अध्यक्ष नरेन्द्र बोलर ने सभी पदाधिकारियों को बधाई देते हुए कहा कि बिलासपुर की शांति फिजा में कुछ गैरजिम्मेदार दलों ने जहर घोल दिया है। बिलासपुर आपराधियों का एशगाह बन गया है। कानून व्यवस्था पूरी तरह से चरमरा चुकी है। बिलासपुर जैसे शांत शहर में ऊपर चैन स्केनिंग,गोली चलने की घटना अब आम बात हो गयी है। ऐसा पहले कभी नहीं देखने और सुनने को मिलता था। शहरवासी असुरक्षा के भावना में जी रहें है। मैग्नेटो माॅल में गौरांग बोबड़े की हत्या या मुख्यमंत्री जनदर्शन में निःशक्त योगेश साहू की आत्मदाह की घटना से जाहिर हो चुका है कि सरकार सभी मोर्चे पर सवेदनहीन हो चुकी है।

                 ग्रामीण अध्यक्ष राजेन्द्र शुक्ला ने कहा कि सरकार ने 12 सालों में प्रदेश को पूंजीपतियों के हाथों गिरवी रख दिया है। किसानों की जमीन पर उद्योगपतियों ने बलात कब्जा कर लिया है। महंगाई आसमान छू रही है। मध्यम और गरीब परिवार का जीना मुश्किल हो गया है। अपराधियों को अभयदान हासिल है। पुलिस मौन हैं, जनता बेबस है। ऐसा लगता है कि अब प्रदेश में कानून व्यवस्था नाम की कोई चीज ही नहीं रह गयी है। प्रभावशाली और रसूखदारों के सामने पुलिस बौना साबित हुई है । अपराध का ग्राफ दिनों दिन बढ़ता ही जा रहा है।

                     बैठक में स्वागत भाषण निगम नेता प्रतिपक्ष शेख नजरूद्दीन ने दिया। पूर्व विधायक बैजनाथ चंद्राकर, पूर्व विधायक चंद्रप्रदीप बाजपेयी और पूर्व शहर अध्यक्ष रविन्द्र सिंह ने उपस्तित लोगों को संबोधित किया। इस मौके पर भुवनेश्वर यादव, देवचरण मधुकर, जफर अली, शेख गफ्फार, एल.एन. राव, जुगल किशोर गोयल, कृष्ण कुमार यादव, शिवा मिश्रा, माधव ओत्तलवार, पूर्व महापौर राजेश पाण्डेय, सुरेन्द्र तिवारी, शशि देवांगन ब्लाक अध्यक्ष, अकबर खान ब्लाक अध्यक्ष, सुनील शुक्ला, फिरोज कुरैशी, महेन्द्र बोलर, कांता सिन्हा, सुभाष ठाकुर, धर्मेश शर्मा, महिला कांग्रेस की अध्यक्षा अनिता लौहात्रे, आशा सिंह, राकेश सिंह, बाटू सिंह, स्वप्निल शुक्ला, जसबीर गुम्बर, सीमा सोनी, आशा पाण्डेय, प्रमोद नायक, राजू अग्रवाल, मो. हफीज, दीपक पाण्डेय, आशिया कुरैशी, रेखा, अविनाश बोलर, अरविन्द शुक्ला,  विजय दीक्षित, अर्जुन सिंह, चंद्रप्रदीप बाजपेयी, समेत बड़ी संख्या में कांग्रेसी उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन शहर कांंग्रेस प्रवक्ता ऋषि पाण्डेय ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *