कांग्रेसियों ने किया कचरा विहार का विरोध

IMG-20151217-WA0026बिलासपुर– कांग्रेस पार्षद और जिला कांग्रेस नेताओं ने आज व्यापार विहार में कचरा डम्पिंग का विरोध किया है। कांग्रेस पार्षद दल ने कचरा डम्प करने पहुंची निगम की गाड़ियों को घंटो घेरकर रखा। नेता प्रतिपक्ष ने बताया कि व्यापार विहार शहर की धड़कन है। यहां रोजना करोड़ों रूपए का व्यवसाय होता है। बावजूद इसके निगम प्रशासन की हरकतों से बिलासपुर को प्रदेश और प्रदेश के बाहर शर्मिंदा होना पड़ रहा है। कचरा व्यापार विहार के मध्य  में फेंक रहा है। जबकि कछार में कचरा डम्प करने की व्यवस्था की गयी है।

                      कांग्रेस पार्षद और नेताओं ने आज व्यापार स्थित कचरा डम्प क्षेत्र के सामने एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया। इस मौके पर नेता प्रतिपक्ष शेख नजरूद्दीन और कांग्रेस पार्षद दल के प्रवक्ता शैलेन्द्र जायसवाल ने बताया कि पूर्व महापौर ने कछार में कचरा डम्पिंग जोन बनाया है। लेकिन निगम सफाई ठेकेदार अपनी आदतों से बाज नहीं आ रहे हैं। व्यापार विहार में ही कचरा डम्प कर रहे है। नजरूद्दीन ने बताया कि निगम प्रशासन और सफाई ठेकेदारों की मिली भगत जग जाहिर है। जिसके चलते व्यापार विहार क्षेत्र में कचरा डम्प होने का सिलसिला रूक नहीं रहा है।

                                          शहर कांग्रेस अध्यक्ष नरेन्द्र बोलर ने कहा कि व्यापार विहार बिलासपुर की पहचान है। रोजना करोड़ों का व्यवसाय होता है। प्रदेश से बाहर के लोग भी व्यवसाय करने आते हैं। सुविधाओं के नाम पर व्यापारियों को  परेशान किया जा रहा है। प्रशासन की शह पर ठेकेदार शहर का कचरा डम्प कर रहे हैं। एक तरफ सफाई अभियान को लेकर लाखों रूपए पानी की तरह बहाया जा रहा हैं। तो दूसरी ओर निगम व्यापार विहार को ही कचरा जोन बनाने पर अमादा है। यह बर्दास्त योग्य नहीं है।

              शैलेन्द्र जायसवाल ने बताया कि सरकारी सम्पत्ति को लूटने का अच्छा तरीका है। पहले कचरे का ढेर बनाओ फिर कचरा हटाने के लिए टेन्डर निकालो। जाहिर सी बात है कि इससे ठेकेदारों को फायदा मिलेगा। ठेकेदार निगम अधिकारियों को इसके बदले कुछ ना कुछ चढ़ावा जरूर देंगे। यह सब सफाई अभियान के तहत किया जाएगा। शैलेन्द्र ने कहा कि सफाई ठेकेदारों को कचरे को कछार में फेंकना चाहिए लेकिन ऐसा हो नहीं रहा है। सब कुछ जानते हुए भी निगम आयुक्त और महापौर चुप हैं। यह चुप्पी भ्रष्टाचार की ओर इशारे करती है।

                             एक दिवसीय धरना प्रदर्शन में व्यापारियों ने भी कचरा डम्प किए जाने का  विरोध किया। लघु एवं कुटीर उद्योग के अध्यक्ष हरीश केडिया ने कहा कि व्यापार विहार में कचरा डम्पिंग का हम विरोध करते हैं। सफाई ठेकेदार अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं। निगम को इनके खिलाफ सख्त कदम उठाने की जरूरत है।

                       कार्यक्रम के बीच कचरा डम्प करने पहुंचे निगम वाहनों को प्रदर्शन कारियों ने घंटों घेरकर रखा। निगम अधिकारियों के पहुंचने के बाद वाहनों को छोड़ दिया गया। कांग्रेस पार्षद दल के प्रवक्ता शैलेन्द्र ने बताया कि व्यापारियों के सहयोग से कचरा डम्प करने वाले वाहनों को घेरा जाएगा। यह अभियान लगातार जारी रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *