मेरा बिलासपुर

कांग्रेस कमेटी करेगी लाठीचार्ज घटना की जांच

बिलासपुर— एक दिन पहले पोस्टमैट्रिक छात्रावास की छात्राओं के साथ कथित पुलिस दुर्व्यवहार और लाठीचार्ज का मामला गरमाता जा रहा है। कांग्रेस नेताओं ने आज कलेक्टर के सामने जमकर तेवर दिखाते हुए न्यायिक जांच की मांग की है। घटनाक्रम को गंभीरता को देखते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल ने कांग्रेस की 6 सदस्यीय टीम का एलान किया है। टीम सात दिन के भीतर पूरे घटनाक्रम की जांच कर रिपोर्ट प्रदेश अध्यक्ष को सौपेगी। कांग्रेस नेताओं ने सतनामी समाज के धर्मगुरुओं और वरिष्ठ गणमान्य लोगों के साथ कलेक्टर पर दबाव बनाते हुए कहा कि क्या इनके स्थान पर गैर आदिवासी या अनुसूचित जाति की छात्राएं होती तो उनके साथ भी इसी प्रकार का व्यवहार होता।

                       प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने छात्राओं पर हुए लाठीचार्ज घटना की निंदा करते हुए 6 सदस्यीय जांच टीम का एलान किया है। जांच टीम का अध्यक्ष पीसीसी उपाध्यक्ष और पूर्व विधायक कटघोरा बोधराम कंवर को बनाया गया है। टीम में पीसीसी मंत्री आरंग के पूर्व विधायक गुरू रूद्र, मस्तूरी विधायक दिलीप लहरिया, शहर कांग्रेस अध्यक्ष नरेन्द्र बोलर और मुंगेली जिला पंचायत अध्यक्ष कृष्णा बघेल प्रमुख सदस्य होंगे।

               जांच टीम 25 तारीख से पूरे घटनाक्रम का सिलसिलेवार जांच पड़ताल करेगी। टीम के सदस्य पोस्टमैट्रिक छात्रावास का निरीक्षण करेंने के बाद पीडितों से भी बातचीत करेंगे। कांग्रेस की जांच टीम पुलिस अधिकारियों के अलावा कलेक्टर और छात्रावास अधीक्षिका से भी मुलाकात करेंगे।

                     जांच टीम के सदस्य नरेन्द्र बोलर ने बताया कि चूंकि घटनाक्रम में अनुसूचित जाति की छात्राओं को प्रताडित किया गया है। मामला काफी संवेदनशील है। हम यह जानने का प्रयास करेंगे कि आखिर क्या नौबत आगयी कि पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। लाठीजार्च का आदेश किसने दिया था। इन सब तमाम बिन्दुओं पर छानबीन होगी। छात्राओं को कोनी में गिरफ्तार कर रखा गया था इसलिए जांच टीम कोनी थाना भी जाएगी। एक सप्ताह के भीतर रिपोर्ट पीसीसी अध्यक्ष को सौंपा जाएगा।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS