हमार छ्त्तीसगढ़

कांग्रेस – बसपा तालमेल पर सीटों को लेकर अभी कोई फैसला नहीं…. डॉ. महंत बोले-हाई लेबल पर चल रही बातचीत

रायपुर । छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस चुनाव अभियान समिति की अहम् बैठक बुधावर को हुई। इस बैठक में चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉक्टर चरणदास महंत ,प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल ,कांग्रेस विधायक दल के नेता टीएस सिंहदेव ,पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष धनेंद्र साहू ,पूर्व मंत्री सत्यनारायण शर्मा, पूर्व कांग्रेस विधायक दल के नेता रविंद्र चौबे , कांग्रेस के दोनों कार्यकारी अध्यक्ष डॉक्टर शिव कुमार डहरिया और रामदयाल उइके सहित चुनाव अभियान समिति के सदस्यगण शामिल हुए  ।
 बैठक प्रारंभ होने पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल ने रायपुर के पूर्व सांसद सर्वोदयी नेता केयूरभूषण और प्रदेश के पूर्व वित्त मंत्री रामचंद्र सिंह देव के निधन पर शोक का प्रस्ताव रखा और सभी सदस्यों ने 2 मिनट का मौन धारण कर दिवंगत नेताओं को श्रद्धांजलि अर्पित की। बैठक में तय किया गया है कि चुनाव अभियान समिति का कार्यक्रम 31 से शुरू होगा। 1 अगस्त से 10 अगस्त तक प्रदेश के सभी नगर पालिका निगम क्षेत्र मेँ कार्यक्रम होगे। कार्यक्रम का नाम जनसंवाद रखा गया है। जिसके तहत उस इळाके के कार्यकर्ताओँ से बातचीत की जाएगी । उस इलाके के महत्वपूर्ण कांग्रेसी परिवार के लोग और पुरखों  से भेंट कर उनसे चर्चा की जाएगी। साथ ही व्यापारिक संगठनों और सामाजिक संगठनों से भी मुलाकात करने का कार्यक्रम है। साथ ही खेल संगठनों , छात्रों और मेधावी बच्चों से मिलकर चर्चा की जाएगी । इस तरह सामाजिक माहौल बनाने की गरज  से यह अभियान चलाया जा रहा है।
बैठक में तय किया गया है कि 11 अगस्त को होने वाले हरेली त्यौहार को जोरशोर से मनाया जाएगा। इस दिन पूरे प्रदेश में कार्यक्रम होंगे और इसमें केन्द्रित होगा कि नरवा,गरवा,घुरवा – बारी … छत्तीसगढ़ की चिन्हारी है। जिसे कांग्रेस ही बचाकर रख सकती है। इसी तरह मिनी माता की पुण्य तिथि पर प्रत्येक जिले में कार्यक्रम होगे । जिसमें छत्तीसगढ़ की सामाजिक समरसता पर उनके योगदान को याद किया जाएगा।
बैठक के बाद cgwall  से बात करते हुए छत्तीसगढ़     प्रदेश कांग्रेस चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष – पूर्व केन्द्रीय मंत्री डॉ. चरण दास महंत ने बताया कि बैठक में इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव में बहुजन समाज पार्टी के साथ तालमेल को लेकर कोई निर्णय नहीं किया गया है। डॉ.महंत ने एक सवाल के जवाब में यह माना कि चुनावी तालमेल को लेकर बसपा के साथ उच्च स्तर पर चर्चा चल रही है। लेकिन सीटों को लेकर अभी कुछ भी तय नहीं किया गया है। उच्च स्तर पर चल रही चर्चा के बाद जो स्थिति सामने आएगी उस आधार पर अंतिम निर्णय लिया जाएगा। तब तक सीटों को लेकर कोई बात नहीं कही जा सकती।

अकाल का मुकाबला करने सरकारी अमला चौकस
Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS