मेरा बिलासपुर

किसानों को नहीं आएगी पानी की कमी– बृजमोहन

IMG_20150902_163601बिलासपुर— संभाग के रायगढ़ मरवाही क्षेत्र में बारिश कम हुई है। बावजूद इसके किसानों को किसी प्रकार की किल्लत पानी को लेकर नहीं होगी। शाकम्भरी योजना, नहरों और बांधों के जरिए किसानों को पानी दिया जाएगा। मानसून कमजोर होने का नुकसान फसल पर नहीं पड़ेगा। मंथन सभागार में दो घंटे तक चली संभागीय विभागीय बैठक के बाद पत्रकारों से चर्चा के दौरान कृषि एवं जल संसाधन मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहीं।

                         कमजोर बारिश पर हल्की चिंता जाहिर करते हुए आज पत्रकार वार्ता के दौरान कृषि एवं जल संसाधन मंत्री ने कहा कि किसानों के फसल को पानी मिलेगा। आज बैठक के दौरान अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि किसानों को पानी पर्याप्त दिए जाएं। बांधो में पानी पर्याप्त मात्रा में है। बावजूद इसके यदि कहीं से शिकायत मिलेगी तो अधिकारियों पर कार्रवाई की जाएगी।

             बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि जलसंसाधन विभाग में सभी टेंडर और काम आनलाइन हो गया है। पारदर्शिता के साथ काम किया जा रहा है। विभाग में टेन्डर स्कैनिंग के मामले में मंत्री ने कहा कि अब जालसाजी वाला काम संभव नहीं है। उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि आलोक अग्रवाल ने भ्रष्टाचार किया है उसकी सजा मिल रही है। जो भ्रष्ट है उसके खिलाफ कार्रवाई होगी। बृजमोहन ने बताया कि बैठक में बिजली पानी और स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी भी उपस्थित थे। उन्हें आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया है।

                     किसानों के आत्महत्या के सवाल पर बृजमोहन ने कहा कि भूमिपुत्रों के मौत का कारण अभी स्पष्ट नहीं है लेकिन इतना तय है कि प्रदेश मे भूख से अभी तक कोई नहीं मरा है। इसलिए कहना गलत है कि अकाल के चलते किसान आत्महत्या कर रहे हैं। पिछले दस साल में ऐसी अभी शिकायत नहीं आयी है। इस साल ही नहीं बल्कि आगे आने वाले समय में भी प्रदेश में भाजपा सरकार किसी को भूंखों नहीं मरने देगी।

पुरानी बिल्डिंग तोड़कर बनेगा ट्रामा सेंटर

           गंगरेल बांध से पानी छोड़ने के विवाद पर आयकट मंत्री ने कहा कि पुलिस लाठीचार्ज में किसी किसान की मौत नहीं हुई है। लाठीचार्ज की घटना प्रतीक और एतिहात के रूप में उठाया गया कदम था। लेकिन घटना में किसी किसान की मौत लाठी चार्ज नहीं हुई। अग्रवाल ने कहा कि जाच के बाद स्पष्ट हो जाएगा कि आखिर किसान की मौत कैसे और क्यों हुई।

                 बृजमोहन ने बताया कि गंगरेल बांध में किसानों के आड़ में कांग्रेस ने गंदी राजनीति का रास्ता चुना है। जनता उनके मंसूबों को कामयाब नहीं होने देगी।

             पत्रवार्ता के बाद जल संसाधन मंत्री खूंटाघाट के लिए रवाना हो गए। वहां रात्रि विश्राम के बाद कल अन्य कार्यक्रमों में शिरकत करेंगे।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS