किसानों को रिझाने..पदयात्रा पर निकले कांग्रेसी

IMG_20151025_124852बिलासपुर— दूसरे चरण की किसान अधिकार न्याय पदयात्रा से पहले  लिंगियाडीह में कांग्रेसियों ने जमकर भाषणवाजी की। राजेन्द्र शुक्ला की अगुवाई में किसान न्याय पदयात्रा का दूसरा चरण लिंगियाडीह से शुरू होकर तीन चरणों के बाद 27 अक्टूबर को रिजदा में खत्म होगी। इस बीच जगह-जगह आयोजित सभा को जिला कांग्रेस ग्रामीण अध्यक्ष राजेन्द्र शुक्ला  संबोधित करेंगे।

                                 लिंगियाडीह में गर्मजोशी के साथ जिला कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने किसान पदयात्रा का श्रीगणेश किया। पदयात्रा पहले  लिंगियाडीह चौक पर एक सभा का आयोजन किया गया। इस दौरान जिले के कद्दावर कांग्रेसी नेताओं ने प्रदेश और देश की सरकार के खिलाफ जमकर भाषणवाजी की। सभा को कई वरिष्ठ कांग्रेसियों ने संबोधित किया। सभी वक्ताओं ने रमन और मोदी सरकार के खिलाफ जहर उगला और भाजपा को अवसर वादी पार्टी बताया। सभा में स्थानीय लोग भी मौजूद थे।

                                सभा को जिला कांग्रेस अध्यक्ष राजेन्द्र शुक्ला,शहर अध्यक्ष नरेन्द्र बोलर, कांग्रेस सचिव अजय सिंह, पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष बैजनाथ चन्द्राकर, विजय पाण्डेय, टाटा महराज, जसबीर गुम्बर, पर्व विधायक सीपत चन्द्रप्रकाश वाजपेयी, ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष दिवाकर, कांग्रेस के तेज तर्रार नेता अर्जुन तिवारी, संभागीय प्रवक्ता अभय नारायण राय समेत कई नेताओं ने संबोधित किया।IMG_20151025_125543

                       कमोबेश सभी नेताओं ने किसानों के साथ हो रहे अन्याय और वादा खिलाफी को लेकर सरकार को घेरा। वक्ताओं ने कहा कि प्रदेश सरकार को दो साल पूरे होने को है लेकिन अभी तक किसानों को ना तो 2100 रूपए समर्थन मूल्य और ना ही 300 रूपए बोनस का फायदा मिला है। प्रदेश सूखे की आग में जल रहा है। किसान आत्महत्या कर रहे हैं। मनरेगा का काम शुरू नहीं हुआ है। चारो तरफ त्राहि-त्राहि मची हुई है। लेकिन प्रदेश सरकार के कान में जूं तक नहीं रेंग रहा है।

                                                  वक्ताओं ने कहा कि प्रदेश सरकार संवेदनहीन हो चुकी है। भारत सरकार पर निशाना साधते हुए बैजनाथ चन्द्राकर, विजय पाण्डेय, राजेन्द्र शुक्ला, अर्जुन तिवारी, ने कहा कि एनडीए सरकार ख्यालीपुलाव पका कर सबको खिला रही है। विकास का वादा करने वालों को यह पता नहीं है कि महंगाई कैसे नियंत्रित किया जाए। लोगों में भयंकर आक्रोश है। जनता इसका बदला लेकर रहेगी।

                  राजेन्द्र शुक्ला , चन्द्रप्रकाश वाजपेयी और जसबीर गुम्बर ने बताया कि प्रदेश सरकार किसानों के नाम पर खजाने में कमी का रोना रोती है। लेकिन पूंजीपतियों के लिए उसने तीन हजार करोड़ रुपए माफ करने का एलान किया है। यह तीन हजार करोड़ रूपए की माफी का सीधा असर सरकारी खजाने पर पडेगा। यह राशि किसानों और गरीब जनता की है। कांग्रेस और किसान मिलकर पूंजीपतियों को खजाना लुटाने वालों को सबक सिखाएगी।

                      किसान न्याय पदयात्रा के प्रभारी पिनाल उपवेजा ने बताया कि पहले चरण के पदयात्रा से प्रदेश सरकार को धान खरीदी की तारीख बदलना पड़ा है। इस पदयात्रा के बाद प्रदेश सरकार को अहसास हो जाएगा कि किसान अब उन्हें बदलने के लिए तैयार खड़ी है। पिनाल ने बताया कि पदयात्रा के दौरान सभा का भी आयोजन किया जाएगा। दूसरे चरण के पदयात्रा के अंतिम दिन रिजदा में विशाल सभा का आयोजन किया जाएगा।

               कार्यक्रम में सुभाष सिंह ठाकुर, इम्तियाज अली,हरमेन्द्र शुक्ला,कुन्दन बंजारे,विरेन्द्र शर्मा समेत कई काग्रेस नेता और स्थानीय लोग शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *