मेरा बिलासपुर

किसी ने सीएम को,,कुछ ने विधायक को बनाया निशाना

IMG_20150908_133500बिलासपुर—पीसीसी अध्यक्ष भूपेश बघेल के निर्देश पर कांग्रेस की आज प्रदेश व्यापी धरना प्रदर्शन के क्रम में बिलासपुर स्थित नेहरू चौक पर जिला कांग्रेस ने भी धरना प्रदर्शन किया। इस मौके पर जिले के सभी वरिष्ट नेताओं ने रमन सरकार की नीतियों और रीतियों को जमकर आड़े हाथ लिया। कांग्रेसियों ने किसानों के साथ अन्याय करने का आरोप लगाते हुए मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह पर संवेदनहीनता का आरोप लगाया है।

             नेहरू चौक पर आज जिला कांग्रेस ने विभिन्न मुद्दों को लेकर धरना- प्रदर्शन कर जमकर जहर उगला। कांग्रेस नेताओं ने भाषणबाजी करते हुए प्रदेश सरकार को जमकर खरी खोटी सुनाई। धरना प्रदर्शन के बाद रैली की शक्ल में कांग्रेस नेताओं ने जिला कार्यालय पहुंचकर राज्यपाल के नाम कलेक्टर को सरकार के खिलाफ ज्ञापन सौंपा।

           कलेक्टर से मुलाकात कर कांग्रेस नेताओं ने बताया कि प्रदेश की 80 प्रतिशत आबादी किसानी का काम करती है। इस साल कम वर्षा होने के कारण प्रदेश में आकाल की नौबत आ गयी है। ऐसे में प्रदेश सरकार ने चंद उद्योगपतियों के हित को ध्यान में रखते हुए 80 प्रतिशत आबादी के साथ अन्याय किया है। अभी तक बांधों से पानी नहीं छोड़ा जाना समझ से परे है। गंगरेल बांध में पानी छोड़ने की मांग कर रहे किसानों पर लाठीचार्ज की घटना के बाद मुख्यमंत्री की संवेदनहीनता सबके सामने आ चुकी है। कांग्रेसियों ने बताया कि लाठीचार्ज के दौरान एक किसान की मौत भी हुई है। हम सरकार से केजूराम राम बारले की मौत पर 20 लाख मुआवजे दिए जाने की मांग करते हैं।

Bilaspur-निगम कमिश्नर प्रभाकर पाण्डेय ने किया पदभार ग्रहण,कहा-शहर विकास कार्य होगी प्राथमिकता

           कलेक्टर को लिखित ज्ञापन में कांग्रेसियों ने राज्यपाल से प्रदेश को सूखा घोषित करने मांग की है। साथ ही प्रदेश के सभी बांधों को तत्काल खोलने के लिए कहा है। राज्यपाल के नाम लिखित पेश कर कांग्रेसियों ने कलेक्टर से कहा कि बिजली कटौती को तत्काल बंद किया जाए। किसानों को पूर्व में दिये जाने वाले बोनस राशि बल्कि धान खरीदी पर घोषित बोनस को भी अबिलंब भुगतान किया जाए। कांग्रेसियों ने राज्यपाल को दिए ज्ञापन में मनरेगा में अधिक से अधिक लोगों को रोजगार दिए जाने की वकालत करते हुए लोहण्डीगुड़ा फर्जी परीक्षार्थी मामले में शांति कश्यप के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की भी मांग की है।

         कलेक्टर से मुलाकात कर कांग्रेसियों ने नान घोटाल, धान खरीदी घोटाला, नसबंदी काण्ड, इंदिरा प्रदर्शनी बैंक घोटाला, मीना खलको हत्याकाण्ड की जांच सीबीआई से करने को कहा है।

                                 कलेक्टर से मुलाकात के पहले कांग्रेसियों ने नेहरू चौक पर सरकार की कार्यप्रणाली पर जमकर निशाना साधा। धरना प्रदर्शन को प्रदेश कांग्रेस महामंत्री अटल श्रीवास्तव, जिला कांग्रेस ग्रामीण अध्यक्ष राजेन्द्र शुक्ला, शहर अध्यक्ष नरेन्द्र बोलर वरिष्ठ कांग्रेस नेता शेख गफ्फार, निगम नेता प्रतिपक्ष शेख नजरूद्दीन, प्रदेश कांग्रेस सचिव रामशरण यादव, प्रदेश सचिव पंकज सिंह, महेश दुबे आशीष सिंह, विवेक वाजपेयी,संभागीय प्रवक्ता अभयनारायण राय ने संबोधित किया।

                            सभी नेताओं ने बारी बारी से प्रदेश सरकार की कार्यशैली और तमाम काण्डों के साथ ही बिलासपुर शहर के मास्टर प्लान 2031 पर भी जहर बुझा तीर छोड़ा। कांग्रेसियों ने बताया कि मास्टर प्लान में कोई मास्टर माइंड काम कर रहा है। जिसने अपने चहेतों को ध्यान में रखकर शहर को लूटने का प्लान बनाया है। इस दौरान नेताओं ने ग्रामीण क्षेत्रों में लगाए गए टैक्स को तत्काल हटाने की भी मांग की है।

दिल्ली में सोमनाथ को मिला सम्मान.. मूर्धन्य व्यंग्यकार ललित की पुस्तक का हुआ विमोचन..साहित्यकारों ने दी बधाई

       कार्यक्रम में वरिष्ठ कांग्रेस नेता शिवा मिश्रा, पूर्व नेता प्रतिपक्ष निगम बसंत शर्मा,निगम नेता प्रतिपक्ष शैलेन्द्र जायसवाल, शहर कांग्रेस प्रवक्ता ऋषि पाण्डेय, सुभाष ठाकुर राजू खटिक,शहजादी कुरैशी, डा.राजेश गुप्ता, समेत कांग्रेस पार्षद और कार्यकर्ता विशेष रूप से उपस्थित थे।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS