मेरा बिलासपुर

कोरोना कहरः सिम्स डॉक्टर पाजीटिव ..जेल की हालत खराब..जांजी में 1 माह और बिलासपुर में 2 साल की बच्ची संक्रमित..मंगला चौक, मिनीबस्ती, लावर, बेलगहना, हिर्री तक संक्रमण

बिलासपुर— सोमवार को जिले में कुल 72 कोरोना पाजीटिव मरीज पाए गए हैं। बिलासपुर शहर में 45 मरीज सामने आए हैं। अकेले केन्द्रीय जेल में 27 मरीजों की संख्या दर्ज की गयी है।जबकि रेलवे कन्ट्रक्शन कालोनी में कोरोना संक्रमित मरीज दिनो दिन बढ़ रहे हैं। सीपत थाना और मस्तूरी क्षेत्र में प्रकोप तेजी से बढ़ रहा है। खासकर बिलासपुर में एक दिन में 45 मरीज पाए जाने से हड़कम्प है। जांजी में एक माह की बच्ची कोरोना पाजीटिव पाए जाने के बाद परेशानी बढ़ गयी है। बिलासपुर में भी 2 साल की बच्ची संक्रमित पायी गयी है। मंगला चौक, मिनी बस्ती से बिल्हा के लावर तक कोरोना कहर की आंच पहुंच चुकी है। हिर्री और बेलगहना में भी महिला मरीज संक्रमित मिली है।

बिलासपुर से ग्रामीण क्षेत्रों तक कोरोना का कहर

                  शहर से लेकर गांव तक कोरोना संक्रमण की आंज पहुंच चुकी है। बिलासपुर शहर के चारो दिशा में स्थित ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना के मरीज रोज मिल रहे हैं। प्रशासन की चिंता बढ़ गयी है। सीपत, मस्तूरी, कोटा, बिल्हा, हिर्री, चकरभाठा, सभी थाना क्षेत्रों में मरीजों की संख्या दिनो दिन बढ़ती ही जा रही है। मरीजों की संख्या बढ़ते देख प्रशासन की  चिंता बढ़ गयी है।

केन्द्रीय जेल बन गया कोरोना सेन्टर

                 केन्द्रीय जेल में रोज ना रोज मरीजों की संख्या सामने आ रही है। सोमवार को कुल 27 मरीज कोरोना पाजीटिव पाए गए हैं। इसमें 5 प्रहरी और 22 बंदी शामिल है। कैदी और कर्मचारियों की सुरक्षा को लेकर जेल प्रशासन की चिंता लगातार बढ़ती जा रही है। रेलवे क्षेत्र में कोरोना पाजीटिव लगातार बढ़ते जा रहे है।

शनिवार-रविवार को बिलासपुर मे रहेगा पूर्ण लॉक-डाउन,ये सेवाए रहेंगी जारी,देखे सूची

 ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना की धमक

                सीपत थाना क्षेत्र के जांजी में चार महिला संक्रमित मरीज मिली हैं। मस्तूरी के सीपत थाना धौराभाठा में 4 मरीज पाए गए हैं। मस्तूरी के केवटा, पचपेढ़ी, सोन लोहर्सी, किरारी, लावर रिस्दा, में सर्वाधिक मरीज मिले हैं। इसमें दो महिलाएं भी शामिल हैं। बिल्हा के सेवार मे तीन पाजीटिव पाए गए हैं।

जांजी में एक महीने की बच्ची संक्रमित..प्रकाश नगर में भी 2 साल की बच्ची पाजीटिव

               सीपत थाना क्षेत्र के जांजी गांव में दो महिला मरीज नाबालिग मिली है। इसमें एक महीने की बच्ची भी शामिल है। इसके अलावा 2 साल की बच्ची भी टेस्ट में कोरोना पाजीटिव है। इसमें एक माह की बच्ची के अलावा 2 साल की बच्ची भी कोरोना पाजीटिव पायी गयी है।

             इसके अलावा बिलासपुर में भी 2 साल की बच्ची कोल डम्प कैम्पस बिरसा चौक प्रकाश नगर कोरोना पाजीटिव मिली है। नाबालिगो में मिल रहे कोरोना संक्रमण के चलते जनता और प्रशासन की नींद उड़ गयी है।

कहा कहां पाए गए कोरोना मरीज

                 शहर मध्य स्थित सेन्ट्रल जेल में 27 मरीजों के अलावा शहर के अन्य क्षेत्रों में कोरोना के 20 से अधिक मरीज मिले है। सतबहनिया मंदिर बंधवापारा, धौराभाठा सीपत से तीन मरीज, जांजी से तीन . मस्तूरी के केवतरा, चोसला, पचपेढी, सोन,किरारी, रिस्दा, लावर ,में मरीजो की संख्या बढ़ गयी है। बिल्हा के सेवार में तीन महिला मरीज मिली हैं। तखतपुर विकास खण्ड के हिर्री गांव, कोटा में बेलगहना, रेलवे कन्ट्रक्शन कालोनी, मंगला चौक क्षेत्र, मिनी बस्ती जरहाभाठा, शर्मा विहार रेसीडेन्सी सरकन्डा, मिशन स्कूल के पास शीतला मंदिर गेट के सामने, जेल लाइन बिलासपुर से कोरोना के पाजीटिव मरीज मिले हैं।

नहीं खुलेंगे बैंकों के ताले...बैंकर संगठनों का फैसला...विशेष बैठक में अनिश्चित कालीन हड़ताल पर भी हुआ मंथन

सिम्स की महिला डाक्टर पाजीटिव

                      सोमवार को मिली रिपोर्ट के अनुसार कुल 72 मरीजों में सिम्स की एक महिला डाक्टर भी पाजीटिव पायी गयी हैं। बहरहाल सभी  मरीजों को कोविड  19 और एम्स में भर्ती किया गया है।

शहर में फैला कोरोना

          स्वास्थ्य विभाग के एक सीनियर डाक्टर ने बताया कि जनता को लापरवाही से बचना होगा। शहर का कोना कोना कोरोना की जद में है। बावजूद इसके लोग लापरवाही से बाज नहीं आ रहे हैं। शासन के दिशा निर्देशों का भी पालन नहीं कर रहे हैं। यदि अब भी लोग अपनी आदतों से बाज नहीं आए तो हालात नाजुक हो जाएंगे।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS