खनिज अधिकारी बंजारे के ठिकानों पर एसीबी का छापा

Join WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

IMG-20160603-WA0021 बिलासपुर– रायपुर एन्टी करप्शन की टीम ने आज एक साथ आरंग और बिलासपुर स्थित खनिज विभाग अधिकारी बंजारे के ठिकानों पर छापा मारा। छापामार कार्रवाई में रायपुर और जगदलपुर के अधिकारी शामिल हैं। टीम ने आज तड़के 6 बजे खनिज विभाग अधिकारी कुंदन कुमार बंजारे के निवास पर दबिश दी। कार्रवाई अभी भी चल रही है। जानकारी के अनुसार बंजारे के आरंग स्थित घर से आय से अधिक संपत्ति के होने की जानकारी मिली है।

                               एन्टी करप्शन व्यूरों ने खनिज विभाग संयुक्त संचालक के.के.बंजारे के सिद्ध शिखर अपार्टमेंट स्थित निवास पर सुबह 6 बजे दबिश दी। एसीबी की एक अन्य टीम बंजारे के आरंग स्थित ठिकाने पर भी छापा मारा है। 6 सदस्यी टीम की अगुवाई डीएसपी शाहिद अली रायपुर कर रहे हैं। टीम में  जगदलपुर से निरीक्षक चन्द्रशेखर ध्रुव, रायपुर से दो राजपत्रित अधिकारी के अलावा दो अन्य कर्मचारी शामिल हैं।

                 सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार खनिज विभाग के संयुक्त संचालक के.के.बंजारे पर कोयला लायसेस रिनिवल के लिए प्रत्येक ट्रेडर्स से पांच से सात लाख रूपए लेने की शिकायत मिली थी। जबकि लायसेंस सिर्फ बीस से पच्चीस हजार में रिनिवल होता है। नाम नहीं छापने की शर्त पर एक अधिकारी ने बताया कि के.के.बंजारे की रेत माफियाओं से भी मिली भगत की शिकायत है। पिछले दो साल में बंजारे ने रेत उत्खनन में गलत तरीके से संपत्ति अर्जित किया है। इस बात की लगातार शिकायत मिल रही थी।IMG-20160603-WA0022

                                    जानकारी के अनुसार दोपहर तक की कार्रवाई में एसीबी टीम को सिद्ध शिखर अपार्टमेंट स्थित बंजारे के निवास से नगद में कुल चौंतिस हजार रूपयों के अलावा सोने चांदी के आभूषण भी मिले हैं। कार्रवाई अभी भी चल रही है। एसीबी की टीम कुंदन कुमार बंंजारे से बंद कमरे मेंं लगातार पूछताछ कर रही है। बताया जा रहा है कि कुंदन कुमार बंजारे का बिलासपुर में नजदीकियों के नाम बेनामी घर और जमीन है। टीम को बंजारे के घर से कुछ बैंकों के अकाउंट भी मिले हैं। खबर लिखे जाने तक जानकारी नहीं हो पायी है कि अकाउंट किस बैंंक के और उसमें कितने रूपए हैं।

चार नाबालिग बच्चियों को भेजा गया महिला थाना
READ

                     बताया जा रहा है कि बंजारे के आरंग स्थित घर से एसीबी को भारी सफलता मिली है। बहरहाल क्या कुछ मिला है इसकी जानकारी एसीबी की टीम ने बताने से इकार कर दिया हैं। खबर लिखे जाने तक एसीबी की कार्रवाई चल रही थी।