मेरा बिलासपुर

खुशी है कि सिम्स विवादों में आया-अजय

IMG_20151207_141349बिलासपुर— मंथन सभागार में अधिकारियों की समीक्षा बैठक के बाद प्रभारी मंत्री अजय चन्द्राकार ने बताया कि बदहाल सिम्स को जल्द ही पटरी पर लाया जाएगा। उन्होने कहा लोगों को खुश होना चाहिए कि कम से कम सिम्स विवादों में तो आया। जल्द ही विवादों को भी शांत कर लिया जाएगा। अजय चन्द्राकर ने इस मौके पर डाक्टरों की कमी की समस्या को जल्द से निबटाने की बात कही। वहीं मिला पत्रकार के प्रश्न को टाल दिया।

समीक्षा बैठक के बाद प्रभारी मंत्री अजय चन्द्राकर ने कहा कि कम से कम सिम्स इस हालत में तो पहुंचा कि वह अब प्रश्न और विवादों का विषय बना। पलट सवाल पर उन्होने कहा कि जल्द ही विवादों और डाक्टरों की कमी की समस्या को भी हल कर लिया जाएगा। न्यूरो सर्जन के स्थानांतरण और कमी के प्रश्न पर अजय चन्द्राकर ने बताया कि प्रदेश में चिकित्सकों की भारी कमी है। सिम्स न्यूरोसर्जन की कमी को दूर किया जाएगा साथ ही प्रदेश में चिकत्सकों की कमी नहीं होने दी जाएगी। चन्द्राकर ने बताया कि पिछले दस साल में भारत में छत्तीसगढ़ ने पांच मेडिकल कालेज खोलकर नया रिकार्ड बनाया है। इतना किसी प्रदेश की सरकार ने आज तक नहीं किया है।

         सीजी वाल के सवाल कि बावजूद इसके प्रदेश में चिकित्सकों का टोंटा है के जवाब में चन्द्राकर ने कहा कि ऐसी नीतियां बनाई जाँएगी कि आने वाले समय में अब किसी ब्रेन को ड्रेन नहीं होने दिया जाए। चन्द्राकर ने कहा कि मरवाही में सूखा का बहुत बड़ा संकट है। साथ ही प्रदेश में अन्य घोषित जगहों में अकाल की भीषण स्थिति है लेकिन सरकार ने प्रभावित लोगों को राहत देने के लिए कोई कोर कसर नहीं छोड़ रही है।

भाजपा--कांग्रेस में पैर और पायल का रिश्ता...अमित जोगी

         सीजी वाल के एक सवाल कि क्या सिसोदिया को किसी ने संस्पेंड होने से बजाया है। जानकारी के अनुसार उन्हें मंत्रालय से निलंबित किया जा चुका था लेकिन किसी के सिफारिश पर उनके संस्पेंशन आदेश को निरस्त कराया गया। इस सवाल के जवाब को टालते हुए चन्द्राकर ने कहा कि मैं इस समय सरकारी भवन के नीचे खड़ा हूं। इसका जवाब मैं विरोध प्रदर्शन करने वाले विधायकों और जनता के बीच ही दूंगा। उन्होंने कहा दण्डाधिकारी जांच हो रही है। जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

           अचानकमार टाइगर रिजर्व में भर्राशाही और घटिया सड़क के सवाल पर प्रभारी मंत्री ने कहा कि इस बारे में कलेक्टर से चर्चा करूंगा। शिकायत को गंभीरता के साथ लिया जाए इस बात का भी निर्देश दूंगा। उन्होने कहा कि स्मार्ट सिटी निकाय मंत्री का सपना है उसे हर सूरत में पूरा किया जाएगा। उनके और सरकार के प्रयास से यह काम बेहतर ढंग से किया जाएगा। बिलासपुर वासियों का सपना जरूर साकार होगा।

                           शिक्षाकर्मी स्थानांतरण और नियमित शिक्षकों की कमी पर सीजी वाल के सवाल के जवाब में चन्द्राकर ने कहा कि यह चिंता का विषय है कि शिक्षकों की कमी है। उनका दो साल से स्थानांतरण को लेकर मामले डायरेक्टरेट में लंबित है। इससे ना केवल शिक्षकों को बल्कि उससे कहीं ज्यादा छात्रों को परेशानी हो रही है। चूंकि इस संबधित कुछ मामले हाइकोर्ट में लंबित हैं इसलिए इस पर ज्यादा कुछ बोलना ठीक नहीं होगा। लेकिन समस्या को जल्द ही निपटाया जाएगा।

             किसान न्याय यात्रा के प्रश्न पर चन्द्राकर ने उल्टा प्रश्न दागते हुए कहा कि किसकी यात्रा,कहां की यात्रा…बाद में उन्होंने कहा कि पागलों और अवसरवादियों की यात्रा से कुछ होना जाना नहीं है। कांग्रेस का काम चिल्लाना और बरगलाना है। ढंग से विपक्ष की भूमिका तो पहले निभाएं फिर किसानों के लिए न्याय की मांग करें और यात्रा निकालें।

अर्णव और रिपल्बिक भारत टीवी पर FIR..उन्माद फैलाने का लगा आरोप.. .सोनिया गांधी पर दिया था गंभीर बयान

               महिलाएं आपसे डरती हैं के प्रश्न पर चन्द्राकर ने मामले को टालते हुए कहा कि आज समीक्षा बैठक में आयुष और जीवनदीप जैसी संवेदनशील मुद्दों पर चर्चा हुई। अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया है।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS