गौरेला -पेंड्रा -मरवाही जिले में कर्मचारियों / अधिकारियों की पोस्टिंग के लिए मांगी गई सहमति… कलेक्टर ने सभी विभागों को जारी किया पत्र

बिलासपुर । नया जिला गौरेला -पेंड्रा- मरवाही 10 फरवरी से अस्तित्व में आ जाएगा ।इसके लिए तैयारियां अंतिम चरण में है ।नए जिले में सरकारी दफ्तरों में कर्मचारियों और अधिकारियों की पोस्टिंग के लिए पहल की गई है ।इसे लेकर जिला कलेक्टर ने सभी तहसीलदार को नए जिले में पदस्थापना चाह रहे कर्मचारियों अधिकारियों की सहमति मांगी है।अतिरिक्त कलेक्टर बिलासपुर की ओर से बिलासपुर, कोटा, तखतपुर ,बिल्हा और मस्तूरी के तहसीलदार को इस तरह का पत्र भेजा गया है।

जिसमें कहा गया है कि छत्तीसगढ़ शासन की ओर से बिलासपुर जिला को विभाजित कर गौरेला- पेंड्रा -मरवाही को नवगठित जिला घोषित किया गया है ।जो 10 फरवरी तक अस्तित्व में आ जाएगा ।नवगठित जिला में अधिकारियों कर्मचारियों की आवश्यकता को देखते हुए नवीन जिला में जाने के इच्छुक अधिकारी -कर्मचारी का समिति पत्र भेजने के निर्देश दिए गए हैं ।

जो अधिकारी- कर्मचारी नए जिले में जाने के इच्छुक हैं ,उनसे 3 दिन के भीतर सहमति पत्र लेकर जिला कार्यालय भेजने कहा गया है ।इसी तरह दफ्तर में उपयोग की के सामान कंप्यूटर, प्रिंटर ,फोटोकॉपी मशीन, कुर्सी ,टेबल, अलमारी अगर अनुपयोग होकर उपलब्ध हों, उसे भी 3 दिन के भीतर नवगठित जिला में भेजने की व्यवस्था करने कहा गया है । इस पत्र की प्रति सभी विभाग प्रमुखों को भी भेजी गई है।

Comments

  1. Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *