ग्रामसभा का प्रस्तावः नहीं खुलेगी शराब दुकान

jandarshan 02

रायपुर ।   मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज सवेरे यहां अपने निवास पर जनदर्शन कार्यक्रम में आम जनता की समस्याएं सुनीं। प्रदेश के विभिन्न जिलों से आए ग्रामीणों, जन-प्रतिनिधियों और विभिन्न प्रतिनिधि मण्डलों ने मुख्यमंत्री से मिलकर उन्हें अपनी समस्याएं बतायीं। मुख्यमंत्री ने लोगों की समस्याओं के निराकरण के लिए संबंधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश जारी किए।
संसदीय सचिव श्री मोतीराम चद्रवंशी भी इस अवसर पर उपस्थित थे। दुर्ग जिले के पाटन विकासखण्ड की ग्राम पंचायत किकिरमेटा से सरपंच श्री नेतराम निषाद के नेतृत्व में आए ग्रामीणों के प्रतिनिधि मण्डल ने मुख्यमंत्री को बताया कि जिले की आबकारी सलाहकार समिति ने किकिरमेटा में शराब दुकान खोलने की अनुशंसा की है। जब गांव वालों को इसकी जानकारी मिली, तो ग्रामसभा आयोजित कर सर्वसम्मति से शराब दुकान नहीं खोलने  का प्रस्ताव पारित किया गया। प्रतिनिधि मण्डल ने ग्रामसभा के इस प्रस्ताव के साथ गांव में शराब दुकान नहीं खोलने के लिए मुख्यमंत्री को आवेदन सौंपा। मुख्यमंत्री ने इस संबंध में उचित कार्रवाई का आश्वासन देते हुए, उनका आवेदन आवश्यक कार्रवाई के लिए दुर्ग जिले के कलेक्टर को भेजा गया है। राजनांदगांव जिले की ग्राम पंचायत कलेवा के सरपंच श्री गंगाराम यादव ने मुख्यमंत्री से मुलाकात कर ग्राम कुंवर झोरकी में सौर ऊर्जा पर आधारित पेयजल की व्यवस्था करवाने के सबंध में उन्हें आवेदन सौपा। श्री यादव ने मुख्यमंत्री को बताया कि इस संबंध में ग्रामसभा में सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित किया गया है। मुख्यमंत्री ने इसके लिए स्वीकृति प्रदान करते हुए उनका आवेदन आवश्यक कार्रवाई के लिए कलेक्टर राजनांदगांव को भेजा है। दुर्ग जिले के पाटन विकासखंड की ग्राम पंचायत सोनपुर की सरपंच श्रीमती ननकी कोसले ने खारून नदी पर बनने वाले एनीकट का निर्माण ग्राम सोनपुर में कराने के संबंध में आवेदन दिया।
उन्होंने बताया कि निस्तार के लिए गांव वालों को काफी कठिनाई होती है, यदि एनीकट का निर्माण सोनपुर में होगा, तो ग्रामीणों को काफी सहूलियत होगी। मुख्यमंत्री के निर्देश पर उनका आवेदन परीक्षण के लिए जल संसाधन विभाग के सचिव को भेजा गया है। जशपुर विकासखंड के कुनकुरी विकासखंड की ग्राम पंचायत चराई खारा की सरपचं श्रीमती एमेल्डा टोप्पो ने चराई खार में नाली निर्माण के लिए आवेदन मुख्यमंत्री को सौपा उनका आवेदन आवश्यक कार्रवाई के लिए पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के मंत्री को भेजा गया है। जनदर्शन कार्यक्रम में लगभग दो हजार लोगों से मुलाकात की। डॉ. सिंह से मिलने वालों में 89 विभिन्न प्रतिनिधि मंडलों में शामिल 712 लोगों के अलावा व्यक्तिगत रूप से 595 लोगों ने मुलाकात कर अपनी बात रखी। इनके अलावा आर्थिक सहायता और इंदिरा आवास योजना में मदद के लिए 678 लोगों ने उनसे मुलाकात की।
मुख्यमंत्री से अनेक जरूरतमंद मरीजों ने मुलाकात कर उनसे इलाज के लिए आर्थिक सहायता उपलब्ध कराने का आग्रह किया। मुख्यमंत्री ने गंभीर बीमारियों से पीड़ित 43 जरूरतमंद मरीजों को संजीवनी कोष से मदद का आश्वासन दिया। उनके निर्देश पर 21 मरीजों को रायपुर स्थित अम्बेडकर अस्पताल में निःशुल्क इलाज के लिए भेजा गया। जनदर्शन में 25 लोगों का मधुमेह और सिकलिन के लिए रक्त परीक्षण किया गया। अनेक जनप्रतिनिधियों, ग्रामीणों और प्रतिनिधि मंडलों ने विभिन्न विकास कार्यों के लिए मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपे। मुख्यमंत्री ने मौके पर लगभग 42 लाख रूपए के तेरह निर्माण कार्यों की मंजूरी प्रदान की। इन कार्यों में सीमेंट कांक्रीट सड़क निर्माण, नाली निर्माण और सामुदायिक भवन निर्माण के कार्य शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *