घुटकू पहुंचकर सीबीआई ने जब्त किए दस्तावेज

SAHKARITA_GRADE_VISUAL 003बिलासपुर—सीबीआई की चार सदस्यीय टीम आज घुटकू बंचत बैंक की जांच करने पहुंची। करीब पौने दो घंटे जांच के बाद सीबीआई की टीम घूटकू से जरूरी कागजात जब्त कर रवाना हो गयी। जानकारी के अनुसार सीबीआई की टीम कल रानीगांव सोसायटी की जांच करने जाएगी। रानीगांव सोसायटी में करोंडों का घोटाला सामने आया था। इसके पहले घोटाले सिर उठता बैंक प्रबंधन ने उसे दबा दिया था।

                               सीबीआई की चार सदस्यीय टीम आज घूटकू बंचत बैंक की जांच करने घुटकू पहुंची। टीम ने पंच,सरपंच,ग्रामीणों से पूछताछ की। हाईकोर्ट में घुटकू बचत बैंक में घोटाले की याचिका दायर करने वाले कृष्णा सोनी ने बताया कि सीबीआई अधिकारियों ने ग्रामीणों से बातचीत के बाद समिति गए। वहां पूछताछ के बाद समिति से जरूरी दस्तावेजों को जब्तकर चार लोगों के सामने सील किया।

                कृष्णा सोनी और सेमरताल सोसायटी में घोटाले के खिलाफ आवाज उठाने वाले दिलीप अग्रवाल के अनुसार पीड़ित किसानों ने सीबीआई को बताया कि उन्हें अभी तक जमा किए गए रूपए नहीं मिले है। पीडितों के अनुसार एफआईआर और शिकायत के बाद भी पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। सीबीआई अधिकारियों से पीड़ित किसानों ने बताया कि मामले को रफा दफा करने के लिए पुलिस ने भरसक प्रयास किया। लेकिन वे लोग नहीं माने।

                सीबीआई टीम ने करीब डेढ़ बजे घुटकू सहकारी समिति में धावा बोला। लोगों से बातचीत की। करीब पौने दो घंटे बाद दस्तावेज के साथ रवाना हो गयी।

                           दिलीप अग्रवाल ने बताया कि सीबीआई की टीम कल रानीगांव जा सकती है। रानीगांव में भी 2012-13-14-15 में करोड़ों रूपए का घोटाला हुआ है। उसे भी प्रबंधन ने जांच के बाद दोषियों को बचाने का प्रयास किया है। जांच टीम गुमा,चपोरा,पौंसरा,सेमरताल,नेवरा,बैमा नगोई भी जाएगी।

       सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सीबीआई अधिकारियों के साथ दो बैंक कर्मचारी भी थे। मामले में जब सहकारी संस्थाए जे.आर से बात करने का प्रयास किया गया लेकिन वे मोबाइल पर नहीं आए। लेकिन आज दिन भर जिला सहकारी संस्थाएं और जिला सहकारी बैंक में सीबीआई का खौफ दिनभर लोगों के चेहरे पर देखने को मिला।

                       पांच आरोपियों की पुलिस गिरफ्तारी होने के बाद अभी तीन लोगों को पुलिस की तलाश है। तात्कालीन शाखा प्रबंधक शशांक शेखर दुबे,राजकिशोरी एक्का और सिन्धू पिल्लू गिरफ्तारी से बचने फरार हैं। शशांक शेखर अपने चैम्बर में दो दिन से नहीं आ रहे हैं।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...