मेरा बिलासपुर

चकमा देकर बंग्लादेशी डकैत फरार…तलाश में जुटी पुलिस

IMG-20161108-WA0136बिलासपुर– – सिम्स में इलाज के लिए भर्ती डकैती की सजा काट रहा आरोपी फरार हो गया है। जेल प्रशासन के अनुसार आरोपी को टीबी की बिमारी थी।  इलाज के लिए सिम्स में 16 अक्टूबर को भर्ती किया गया था।  आज सुबह लोगों को चकमा देकर टीबी वार्ड से फरार हो गया। सिविल लाइन पुलिस ने अपराध दर्ज किया है। आरोपी की सघन तलाश की जा रही है।

                                        जानकारी के अनुसार केन्द्रीय जेल में डकैती की सजा काट रहे मोहम्मद कबीर को टीबी की शिकायत मिली। टीबी होने की जानकारी मिलते ही जेल प्रशासन ने 16 अक्टूबर को इलाज के लिए कबीर को सिम्स के टीबी वार्ड में दाखिल कराया। सजायाफ्ता बंदी की गहन निगरानी में इलाज चल रहा था। आज सुबह मोहम्मद कबीर लोगों को चकमा देने में कामयाब हो गया।

                    जानकारी के अनुसार पाही से चाभी लेकर कबीर किचन से लगे नहाने वाले कमरे में गया। काफी देर तक आरोपी के बाहर नहीं आने पर सिपाही ने अंदर झाक कर देखा तो उसके होश उड़ गए। दरअसल बंदी फरार हो चुका था। घटना के बाद सिपाही गोपी कुमार हहरिया ने मामले की शिकायत कोतवाली थाने मे की है।

                                            मालूम हो कि बंगलादेशी डकैतो को 28 जून को पंचम सत्र न्यायाधीश जिला सत्र न्यायालय ने विभिन्न धाराओ के तहत दोषी मानते हुए सभी 6 डकैतों को 5 साल की कैद और 8 सौ रूपए अर्थदण्ड की सजा सुनाई थी। जेल में बंद 6  डकैतो में से एक मोहम्मद कबीर को सामान्य चिकित्सा के दौरान टीबी होने की जानकारी मिली। जेल प्रशासन ने सिम्स में इलाज के 16 अक्टूब को भर्ती कराया। आज मौका लगते ही नहाने का बहाना लेकर मोहम्मद कबीर बाथरूम से फरार हो गया। कैदी के फरार होने की सूचना पर बिलासपुर पुलिस ने रेलवे स्टेशन, बस स्टैण्ड और अन्य जगहो पर जांच अभियान को तेज कर दिया है।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS