मेरा बिलासपुर

चुनौती देने वालों का करता हूं सम्मान—-

बिलासपुर— IMG_20150701_113507मै उन लोगों से बहुत प्रभावित होता हूं जो मुझे हराना चाहते हैं या हराने की कोशिश करते हैं। ऐसे लोगों की कभी हार नहीं होती। ऐसे लोग ही अपने मकसद में कामयाब होते हैं। ऐसे लोगों की मैं बहुत सम्मान करता हूं। संभाग स्तरीय स्वच्छता अभियान मिशन क्रियान्वयन परिचर्चा कार्यक्रम में यह बातें देवकीनंदन सभागार में सचिव आर.पी.मंडल ने कही। मंडल ने संभाग के सभी जनप्रतिनिधियों,अधिकारियों और पत्रकारों से रूबरू होते हुए कहा कि हमें छत्तीसगढ़ के लोगों पर गर्व है। यहां के लोगों के कारण ही हमारे प्रदेश का दिल्ली में पूरे देश के सामने मान बढ़ा है। प्रधानमंत्री ने प्रदेश की तारीफ कर हमें मोटिवेट किया है। स्वच्छता अभियान को हर सूरत में ना केवल सफल बनाया जाएगा बल्कि इसके आगे हम मील का पत्थर स्थापित करेंगे।

                       संभाग स्तरीय स्वच्छ भारत मिशन क्रियान्वयन समीक्षा बैठक एवं परिचर्चा पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सचिव आर.पी. मंडल ने कहा कि छत्तीसगढ़ ने जब भी किसी काम को लेकर ठाना है उस काम को सफलता के साथ एक ऊंचाई मिली है। स्वच्छता मिशन को भी हमें मिलजुल कर नई ऊंचाई देना है। प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के सपनों को साकार करना है। मंडल ने कहा कि मै उन लोगों से बहुत प्रभावित होता हूं जो मुझे हराना चाहते हैं। मुझे ऐसे ही लोगों की तलाश है। जो स्वच्छता मिशन को अंजाम तक पहुंचाएं। और देश में एक बार फिर प्रदेश का माथा गर्व से ऊंचा करें। पत्रकारों से बातचीत करते हुए मण्डल ने कहा कि स्मार्ट सिटी के दौड़ में प्रदेश ही नहीं बिलासपुर संभाग के भी कुछ जिले हैं। जो स्मार्ट सिटी के मापदण्ड को पूरा करेगा उसी जिले को स्मार्ट सिटी का दर्जा हासिल होगा। इस शर्त के बाद लोगों ने तो अब अपने शहर को साफ सुधरा और बेहतर बनाने के लिए काम करना भी शुरू कर दिया है। बिलासपुर उनमें से एक है। उम्मीद है कि बिलासपुर का सपना जरूर साकार होगा।

                       कार्यक्रम को लैलुंगा के जनप्रतिनिधि और रायगढ़ की महापौर ने भी संबोधित किया। बिलासपुर महापौर ने अपने भाषण के दौरान कहा कि मुझे अपने बिलासपुर और प्रदेश पर गर्व है। जब प्रधानमंत्री ने दिल्ली के विज्ञान भवन में प्रदेश का नाम लिया तो सीना गर्व से फूल गया। महापौर ने बताया कि हम मिलजुल कर बिलासपुर को हर सूरत में स्वच्छ बनाएंगे। जिले के सभी गावों में जहां जरूरत होगी शौचालय बनाएंगे।

ओमनगर पार्षद का आरोप..वार्ड के साथ दो आंख..अनंतकाल तक चलेगा सिवरेज का काम

             कार्यक्रम को संभागायुक्त सोनमणि वोरा और कलेक्टर सिद्धार्थ कोमल सिंह ने भी संबोधित किया। दोनों अधिकारियों ने बिलासपुर जिले को शौचालय विहीन बनाने का दावा किया।

                       परिचर्चा के दौरान यह बात भी सामने आयी कि बिलासपुर में शौचालय अभियान शुरू होने से पहले साढ़े चार लाख से अधिक घरों में शौचालय नहीं था। लेकिन धीरे धीरे इनकी संख्या कम कर ली गयी है। आने वाले दो सालों में शत प्रतिशत शौचालय का निर्माण पूरा कर लिया जाएगा। शौचालय की मानिटरिंग राज्य सरकार करेगी। जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों के मार्गदर्शन में शौचालयय का निर्माण किया जाएगा। इस अभियान को किसी भी सूरत में सफल बनाना है इस बात के मद्देनजर नियमों में भी काफी आमूल चूल परिवर्तन किये गए हैं गया है। कार्यक्रम में संभाग के जिला,जनपद के जनप्रतिनिधि और सभी सीएमओ उपस्थित थे। इस दौरान सफाई और शौचालय अभियान की योजनाओं को लेकर प्रोजेक्टर के माध्यम से उपस्थित लोगों के सामने प्रस्तुत किया गया।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS