छत्तीसगढ़ के इस जिले में 24 घंटे में सिर्फ दो-तीन घंटे ही रहती है बिजली…ट्विटर पर लगाई गुहार

सीजीवॉलन्यूज लेकर आए हैं आप सभी पाठकों के लिए सप्ताह के चर्चित ट्वीट्स जो हमारे देश प्रदेश की ख्यातिलब्ध हस्तियां अपने ट्विटर हैंडल से अपडेट करते हैं। सोशल मीडिया के इस दौर में ऐसी अभिव्यक्तिया  जनता के बीच चर्चा में होती है, जिससे देश को देश और समाज में संवाद का सिलसिला क्रिया प्रतिक्रिया के माध्यम से होता है आइए देखते हैं इस सप्ताह के चर्चे कोई कौन से रहे……लोकसभा में कृषि बिलों के पास होने के बाद पंजाब और हरियाणा सहित देश मे कई हिस्सो में इस बिल का विरोध शुरू हो रहा है। इस बिल पर उठे सियासी संग्राम पर देश के प्रधानमंत्री ने ट्विटर के माध्यम से कहा कि मैं देश के किसानों को स्पष्ट संदेश देना चाहता हूं। आप किसी भी भ्रम में मत पड़िए।जो लोग किसानों की रक्षा का ढिंढोरा पीट रहे हैं, दरअसल वे किसानों को अनेक बंधनों में जकड़कर रखना चाहते हैं।वे बिचौलियों का साथ दे रहे हैं, वे किसानों की कमाई लूटने वालों का साथ दे रहे हैं।CGWALL NEWS के व्हाट्सएप ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक कीजिये

छत्तीसगढ़ कांग्रेस ने लोकसभा में पास हुए कृषि बिलों पर किसी का नाम लेते हुए ट्वीट किया और लिखा कि शौक बड़े रखते हैं वोजिस दिन “केक” काटना था, उस दिन किसानों की “जेब” काट दी। #अबकी_बार_किसानों_पर_वार

कांग्रेस अध्यक्ष पद से हटने के बाद भी राहुल गांधी के ट्वीट अक्सर पार्टी के टैग लाइन बनते है । 15 सितंबर को उनके ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया गया जिसमें भारत चीन  सीमा विभाग पर लिखा था कि रक्षा मंत्री  के बयान से साफ है कि  मोदी जी ने देश को चीनी अतिक्रमण पर गुमराह किया। हमारा देश हमेशा से भारतीय सेना के साथ खड़ा था है और रहेगा लेकिन मोदी जी ,आप कब चीन के खिलाफ खड़े होंगे चीन से हमारे देश की जमीन कब वापस लेंगे। चीन नाम लेने से डरो मत

छत्तीसगढ़ में कोरोना का कहर बढ़ता जा रहा है। आरोप प्रत्यारोप की जंग तेज हो गई है। शिक्षकों के नियमिती करण के बाद संविदा स्वस्थ्य कर्मी कोरोना काल मे सड़को पर आए है।  जिस पर पूर्व मंत्री बृजमोहन ने ट्वीट करते हुए लिखा कि कोरोना की भयावह स्थिति में 13000 संविदा  स्वास्थ्य कर्मियों का कल से अनिश्चत कालीन हड़ताल, सरकार मौन?
कहां जाएगा छत्तीसगढ़?

कोरोना काल मे चुनावी गर्मियों के समय गौरेला पेंड्रा मरवाही जिले से  बिजली गोल रहने की शिकायत सुर्खियों में लाते हुए छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस के नेता अमित जोगी ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को टैग करते हुए बड़ा सा ट्वीट किया और लिखा कि @GMarwahi में बिजली कटौती ने विकराल रूप धारण कर लिया है।24घंटों में मात्र 2-3 घंटे ही बिजली रहती है।जितना @ChhattisgarhCMO का पूरे छत्तीसगढ़ में कोरोना से लड़ने के लिए कुल बजट है,उससे 4 गुना ज़्यादा की तो वो अकेले मरवाही में-मेरे पिता जी के स्वर्गवास के बाद-घोषणाएँ कर चुकी है।1/3

विपक्ष की ओर से सरकार को डेली डोज दे रहे पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर ने सरकार की वित्तीय स्थिति कर्ज की कहानी बताये हुए ट्वीट करते हुए बताया कि
31 नवंबर 2018 तक 18 साल में छत्तीसगढ़ में  41 हजार करोड़ का कर्ज
और 1दिसंबर 2018 से अब तक 25000 करोड़ से भी अधिक का कर्ज…..!!!
छत्तीसगढ़ शासन के मान. मंत्री या हर विषय के कांग्रेस विद्वान प्रवक्ता…. स्वीकार करेंगे की खंडन….??
@bhupeshbaghel @plpunia @inhnewsindia

शिक्षक भर्ती प्रक्रिया में आप कूद पड़ी थी जैसे की 
संविदा स्वस्थ्य कर्मी मामले में अभी कूद पड़ी हैं।
आम आदमी पार्टी की आप छत्तीसगढ़ इकाई ने ट्वीट कर बताया कि आदमी पार्टी छत्तीसगढ़ ने प्रदेश में   14580 चयनित शिक्षकों के लिए लंबी लड़ाई लड़ी आमरण अनशन किया आम आदमी पार्टी और 14580 चयनित शिक्षकों को इस जीत की गाड़ा गाड़ा बधाई

सीजीवाल (cgwall.com ) की खास पेशकश खुली बात में संपादक भास्कर मिश्र के साथ बेलतरा के भाजपा विधायक रजनीश सिंह ने प्रदेश और देश के मौजूदा हालात के साथ ही कोरोना काल को लेकर पर लंबी बातचीत की तीखे और वर्तमान काल खंड से जुड़े सवालों का जवाब दिया और बताया कि  कि छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकार के अब 40 महीने ही बचे हैं।सरकार के ड्रीम प्रोजेक्ट के रूप में नरवा-गरवा-घुरवा-बारी योजना  कहां पर है.यह कांग्रेसियों को अभी बताना चाहिए।कोरोना काल में भी सीएम भूपेश बघेल ने अब तक छत्तीसगढ़ के विपक्षी नेताओं को बुलाकर संबंध में चर्चा करना भी उचित नही समझा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *