छत्तीसगढ़ के लोगों को कम कीमत पर मिले सीमेंट..विधानसभा में अजीत जोगी बोले-सरकार सीमेंट उद्योगों पर बनाए दबाव

रायपुर  । छत्तीसगढ़ विधानसभा में प्रश्नकाल के दौरान प्रदेश की के सीमेंट उद्योग से जुड़ा सवाल भी उठाया गया ।  जिस पर सरकार की ओर से जानकारी दी गई कि प्रदेश में 6 जिलों में 13 सीमेंट उद्योग चल रहे हैं  । इस सवाल पर चर्चा के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने कहा कि सरकार को सीमेंट उद्योग ऊपर दबाव बनाना चाहिए  । जिससे स्थानी उपभोक्ताओं को कम कीमत पर सीमेंट मिल सके ।प्रश्नकाल में भाटापारा विधायक शिवरतन शर्मा ने सवाल किया था कि प्रदेश में वर्तमान में किस-किस जिले में कितने सीमेंट उद्योग संचालित हो रहे हैं तथा उद्योगों की उत्पादन क्षमता कितने कितने टन की है ।  उन्होंने यह भी पूछा की स्थापित उद्योगों में पिछले 2 वर्ष के अंदर कितना सीमेंट उत्पादन किया गया तथा कितने क्लिंकर का उत्पादन कर अन्य प्रांतों में भेजा गया । सीजीवाल डॉटकॉम के व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करे
सदन में सरकार के मंत्री मोहम्मद अकबर ने जानकारी दी कि प्रदेश में वर्तमान में 6 जिलों में कुल 13 सीमेंट उद्योग संचालित हो रहे हैं  । सवाल पर चर्चा के दौरान सदस्यों की ओर से यह बात भी उठाई गई कि प्रदेश में सीमेंट का उत्पादन कम हो रहा है और क्लिंकर का अधिक उत्पादन कर अन्य राज्यों में भेजा जा रहा है  ।
इस सवाल पर चर्चा के बीच पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने कहा कि देश के सीमेंट उत्पादन का 25 फ़ीसदी हिस्सा छत्तीसगढ़ में होता है ।  सीमेंट उद्योग के लिए प्रदेश के खदान ,पानी, बिजली ,जमीन आदि का उपयोग होता ही है  । साथ ही प्रदेश के लोग प्रदूषण की मार भी खेलते हैं ।  लेकिन सब कुछ देने के बावजूद छत्तीसगढ़ के लोगों को सीमेंट अन्य राज्यों के बराबर की कीमत पर ही मिलता है ।  उन्होंने कहां कि सरकार को सीमेंट संयंत्रों पर दबाव डालना चाहिए  । जिससे छत्तीसगढ़ के उपभोक्ताओं को कम कीमत पर सीमेंट मिल सके ।  जवाब में मंत्री मोहम्मद अकबर ने कहा कि कीमत तय करना सरकार के नियंत्रण में नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *