छत्तीसगढ़ में दो नई रेल लाइनों पर सुरेश प्रभु ने दी सहमति

prabhu

रायपुर ।   मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने शुक्रवार को  नई दिल्ली में रेल मंत्री  सुरेश प्रभु से मुलाकात की। मुख्यमंत्री के प्रस्तावों पर श्री प्रभु ने राज्य के लिए दो नये रेल मार्गों की सैद्धांतिक सहमति प्रदान कर दी। इन मार्गों की कुल लम्बाई 492 किलोमीटर होगी। डॉ. सिंह ने श्री प्रभु के साथ बैठक में रायपुर-बलौदाबाजार-झारसुगुड़ा (ओडिशा) तक 310 किलोमीटर तथा अम्बिकापुर-बरवाडीह (झारखण्ड) तक 182 किलोमीटर रेलमार्गों के निर्माण से संबंधित प्रस्तावों पर विचार-विमर्श किया। रेल मंत्री ने इन प्रस्तावों को अपनी सैद्धांतिक सहमति प्रदान कर दी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि रायपुर से बलौदाबाजार होते हुए झारसुगुड़ा तक रेलमार्ग बनने पर छत्तीसगढ़ में मुम्बई-हावड़ा लाईन पर एक वैकल्पिक रेल मार्ग की सुविधा यात्रियों को मिल सकती है।
डॉ. रमन सिंह ने  सुरेश प्रभु से कहा कि रायपुर से बलौदाबाजार होकर झरसुगुड़ा जाने वाला  प्रस्तावित रेल मार्ग राज्य के चार जिलों से होकर गुजरेगा । इससे व्यस्ततम मुम्बई – हावड़ा रेल मार्ग को वैकल्पिक रेलमार्ग मिलने के साथ साथ इस क्षेत्र में कोल परिवहन में भी सहुलियत होगी । इसी प्रकार अम्बिकापुर से बरवाडीह रेलमार्ग बलरामपुर जिले को जोड़ेगा तथा इस क्षेत्र में स्थित महत्वपूर्ण कोल खदानों के लिए कोल परिवहन में मददगार साबित होगा । मुख्यमंत्री ने रेल मंत्री को राज्य में वर्तमान में विकसित हो रही ईस्ट-वेस्ट एवं ईस्ट कारीडोर, दल्ली-रावघाट और रावघाट से जगदलपुर रेल परियोजनाओं की प्रगति की जानकारी दी और उन्होंने कहा कि दल्ली और राजहरा के बीच प्रथम चरण में 17 किलोमीटर का कार्य पूरा हो गया है और अगले चरण का कार्य प्रगति पर है । चर्चा में मुख्यमंत्री ने राजनांदगांव शहर में रेलवे स्टेशन को शहर की ओर से प्रारंभ करने के लिए केन्द्रीय रेल मंत्री से आग्रह किया । उन्होंने कहा कि वर्तमान में यात्रियों को काफी लंबी दूरी तय कर वर्तमान रेलवे स्टेशन की ओर जाना होता है । डॉ. सिंह ने कहा कि यदि वहां स्थित दो गोडाउन हटा दिये जायें तो शहर की ओर नया स्टेशन बनाया जा सकता है । केन्द्रीय रेल मंत्री ने इस पर रेल मंत्रालय के अधिकारियों को शीघ्र कार्यवाही कर यह समस्या दूर करने के निर्देश दिये ।
बैठक में रेल मंत्री ने मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह को कहा कि वे छत्तीसगढ़ के 5 रेलवे स्टेशनों को पी.पी.पी. मॉडल पर विकसित करने के लिए प्रस्ताव दे । रेल मंत्रालय इन रेलवे स्टेशनों को आधुनिकतम बनाने के लिए निजी निवेशकों को आमंत्रित कर रहा है । इस अवसर पर रेलवे बोर्ड के चेयरमेन श्री ए.के. मित्तल और छत्तीसगढ़ सरकार के वाणिज्य और उद्योग सचिव  सुबोध कुमार सिंह , नई दिल्ली स्थित आवासीय आयुक्त श्रीमती व्ही.बी. उमादेवी , संचालक जनसंपर्क  राजेश कुमार टोप्पो और विशेष कर्त्तव्यस्थ अधिकारी  विक्रम सिसोदिया भी उपस्थित थे ।

loading...

Comments

  1. By उदय प्रताप सिंह

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...