छत्तीसगढ़ में शिक्षकों के 22 हजार से अधिक पद खाली,बीजापुर जिले में एक पद भी खाली नहीं,बस्तर में सबसे अधिक

रायपुर।छत्तीसगढ़ के सरकारी स्कूलों में व्याख्याता पंचायत शिक्षक पंचायत और सहायक शिक्षक पंचायत के कुल 22 हजार  से अधिक पद खाली हैं। खाली पदों में सबसे अधिक  6800 से अधिक पद व्याख्याता पंचायत के हैं। विधानसभा में एक प्रश्न के जवाब में सरकार ने यह जानकारी दी कि प्रदेश में 1 लाख 39 हजार  से अधिक शिक्षक काम कर रहे हैं।विधानसभा के मौजूदा सत्र में विधायक भैयाराम सिन्हा ने यह सवाल किया था की 12 जनवरी 2018 की स्थिति में प्रदेश में  कितने व्याख्याता पंचायत शिक्षक पंचायत और सहायक शिक्षक पंचायत कार्यरत हैं एवं इनके कितने पद रिक्त हैं ।  इस प्रश्न के लिखित जवाब में पंचायत मंत्री अजय चंद्राकर ने जानकारी दी कि छत्तीसगढ़ में व्याख्याता पंचायत पद पर 27,741 कार्यरत हैं और 6,810 पद रिक्त हैं। इसी तरह शिक्षक पंचायत के पद पर 33,186 कार्यरत हैं जबकि 8,845 पद रिक्त है। सहायक शिक्षक पंचायत पद पर 76,1 78 लोगों के कार्यरत होने की जानकारी दी गई ।

जबकि 5640 सहायक शिक्षक पंचायत के पद रिक्त हैं ।  इसी तरह छत्तीसगढ़ में कुल 1,39, 105 शिक्षक कार्यरत हैं और 22,644 पद खाली हैं।  विधानसभा में दी गई जानकारी के मुताबिक छत्तीसगढ़ में बीजापुर ऐसा जिला है। जिसमें व्याख्याता पंचायत शिक्षक पंचायत और सहायक शिक्षक पंचायत के एक भी पद रिक्त नहीं है। इस तरह इस जिले में सभी पदों पर शिक्षक कार्यरत हैं । लेकिन बस्तर जिले में रिक्त पदों की संख्या सबसे अधिक है ।यहां 2284 पद खाली हैं । जिनमें व्याख्याता पंचायत के 785 शिक्षक पंचायत के 553 और सहायक शिक्षक के 946 पद खाली बताए गए हैं। इस जानकारी के मुताबिक छत्तीसगढ़ में सबसे अधिक 6810 पद व्याख्याता के रिक्त हैं । प्रदेश में बीजापुर जिले को छोड़कर सभी जिलों में व्याख्याताओं के पद खाली हैं ।सबसे अधिक 785 पद बस्तर जिले में खाली हैं । इसी तरह कांकेर में 403, बलरामपुर में 574, राजनांदगांव में 493, गरियाबंद में 498 और बलौदा बाजार – भाटापारा जिले में 600 पद रिक्त है।

प्रदेश के बीजापुर सहित बालोद, सरगुजा और सूरजपुर जिलों  में शिक्षक पंचायत के एक भी पद खाली नहीं है। जबकि अन्य जिलों में सबसे अधिक शिक्षक पंचायत के पद बलौदाबाजार-भाटापारा में925, बस्तर में 553, बलरामपुर में 803, कोंडागांव में 671, कोरिया में 436, मुंगेली में 308, जांजगीर-चांपा में 474, राजनांदगांव में 656, कबीरधाम में 562, बेमेतरा में 450, गरियाबंद में 466, औरमहासमुंद में 349 पद खाली है। जबकि सुकमा और नारायणपुर जिले में 200 से अधिक पद खाली बताए गए हैं । इसी तरह प्रदेश में सहायक शिक्षक के खाली पदों के मामले में  दी गई जानकारी के अनुसार बीजापुर सहित रायगढ़ जशपुर, सरगुजा, धमतरी, दुर्ग और बालोद जिले में एक भी पद खाली नहीं है। अन्य जिलों में सहायक शिक्षक पंचायत के खाली पदों की जानकारी दी गई है। जिनमें सर्वाधिक 946 पद बस्तर में खाली हैं।  रायपुर में 753 , बलौदा बाजार- भाटापारा जिले में 602 पद खाली हैं ।जबकि सुकमा कोंडागांव और बेमेतरा जिले में 400 से अधिक पद रिक्त बताए गए हैं।

विधानसभा में शिक्षकों के खाली पदों को लेकर दी गई जानकारी के मुताबिक बिलासपुर जिले में व्याख्याता पंचायत पद पर 1630 कार्यरत हैं और 42 पद रिक्त है । इसी तरह शिक्षक पंचायत पद पर 1843 कार्यरत और 294 पद रिक्त हैं। जबकि बिलासपुर जिले में सहायक शिक्षक पंचायत के 5228 पद पर शिक्षक कार्यरत हैं और 107 पद खाली बताए गए हैं। बिलासपुर जिले में 8701 6 शिक्षक कार्यरत हैं और  496 पद खाली हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *