मेरा बिलासपुर

छत्तीसगढ़ में हुई पिछड़े – गरीब की तरक्की

amar kududand

बिलासपुर। नगरीय प्रशासन एवं वाणिज्य कर उद्योग मंत्री  अमर अग्रवाल ने सनिवार को वार्ड क्र. 2 कुदुदंड में सतनाम मंगल भवन का लोकार्पण किया। नगर पालिका निगम बिलासपुर द्वारा यह सामुदायिक भवन 10 लाख रूपये की राशि से निर्मित हुई है।
श्री अग्रवाल ने इस अवसर पर कहा कि हमारे देश में विभिन्न समाज के लोग निवास करते हैं। किसी भी समाज की पहली प्राथमिकता ऐसे भवन की होती है जहाॅं उनके सामाजिक कार्य, मांगालिक कार्य संपादित हो सकें। उत्सव मना सकें। उन्होने कहा कि समाज के विकास से ही प्रदेश एवं देश का विकास संभव हैै। सतनामी समाज पिछड़ा हुआ समाज था। छत्तीसगढ़ बनने के पश्चात् सभी पिछड़े गरीब समाज का विकास हुआ है।
श्री अग्रवाल ने कहा कि बाबा संत गुरूघासीदास का जन्म हमारे छत्तीसगढ़ के गिरौदपुरी में हुआ था। जहाॅं उनके नाम पर दुनिया की सबसे उॅची मीनार स्थापित की गई है । जो शांति का प्रतीक हैै। बाबा गुरूघासीदास जी के दुनिया को मानवता का संदेश दिया हैै। मनखे मनखे एक समान, जहाॅं कोई भेदभाव छूआछूत नहीं यही मानवता का संदेश सद्भावना एवं शांति का संदेश दिया है। सतनामी कोई जाति नहीं बल्कि बाबा गुरू घासीदासजी के सतनाम को मानने वाले सभी सतनामी है। उन्होंने बताया कि अनुसूचित जाति विकास प्राधिकरण बनने के पश्चात् समाज के लिए विभिन्न विकास के कार्य किये गये हैं। श्री अग्रवाल ने कहा कि समाज के उत्तरोत्तर विकास के लिए बच्चों को शिक्षा दें। शिक्षा ही विकास की सीढ़ी हैै। उन्होने समाज के आग्रह किया कि वे बच्चों को उच्च शिक्षा देकर आगे बढ़ायें।
इस अवसर पर सतनामी समाज के अध्यक्ष  राजकुमार खाण्डे,  रोशन राही, वार्ड पार्षद राकेश चतुर्वेदी, श्रीमति मधुबाला टंडन, गणेश रजक, भागीरथ वर्मा, रामदेव कुमावत, प्रकाश यादव, श्रीमती सागर टंडन सहदेव कश्यप सहित भारी संख्या में सतनामी समाज के महिलायें एवं नागरिक उपस्थित थे।

सीखने की कोई उम्र नहीं होती-धरमलाल
Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS