मेरा बिलासपुर

बिहार चुनाव फोड़ेगा मोदी गुब्बारा-अजीत जोगी

IMG_20150910_162117बिलासपुर— बिहार चुनाव देश की राजनीति का दिलचस्प मोड़ साबित होने वाला है। एनडीए की हार होगी। मोदी की राजनीति का गुब्बारा फूटेगा। अच्छा हुआ कि बिहार भाजपा नेताओं ने प्रदेश की शासन प्रणाली को देख लिया। अन्यथा इस घोटालेबाज सरकार की तस्वीर उन्हें समझ में नहीं आती। सरकार का पूरा तंत्र फेल है आई अप्रेजल बहुत पहले आ जाना चाहिए था। प्रदेश सूखे की चपेट में है लेकिन छत्तीसगढ़ की भाजपा सरकार बहुत नुकसान होने के बाद नींद से जागी है। मरवाही विधायक पहले से ही अपने क्षेत्र में सूखे की स्थिति को देखते हुए राहत का काम करना शुरू कर दिया है। यह बातें पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने सीजी वाल से बातचीत के दौरान कही।

         पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने आज महासमुंद चुनाव सुनवाई और हाईकोर्ट से निलकने के बाद सीजी वाल से बताया कि मोदी का गुब्बारा जल्द ही फूटने वाला है। बिहार में एनडीए की जबरदस्त हार होने वाली है। अब तो भाजपा के बिहारी नेता भी छत्तीसगढ़ भ्रमण कर अपने प्रदेश लौट गये होंगे। वे ही जाकर बताएंगे कि छत्तीसगढ़ जैसी सरकार बिहार में नहीं चाहिए। जोगी ने बताया कि बिहार चुनाव देश की राजनीति का टर्निंग प्वाइंट साबित होने वाला है। एनडीए की यहां करारी हार होने वाली है। बिहार में यूपीए की सरकार बनेगी। इसी के साथ मोदी का गुब्बारा भी फूट जाएगा।

             भोपाल में आयोजित हिन्दी साहित्य सम्मेलन पर जनरल वी.के.सिंह के बयान की निंदा करते हुए अजीत जोगी ने कहा कि वे हिन्दी और साहित्यकारों के बारे में कितना जानते हैं उनके बयान से सब कुछ जाहिर हो गया है। उन्होंने कहा कि हिन्दी साहित्यकार देश के धरोहर हैं शराब से हिन्दी प्रभावित नहीं होती। साहित्यकार के लिए शराब कोई मायने नहीं होता। वे हमेशा सृजन में रमें रहते हैं। साहित्य धर्मिता अपने आप में नशा है। वी.के.सिंह फौज से आये हैं उन्हें शराब की असलियत का अन्दाजा होगा इसलिए ऐसा बयान दे रहे हैं। जोगी ने कहा कि इस प्रकार की बयानबाजी की निंदा करते हैं। उन्होंने साहित्यकारों का अपमान किया है। जनरल को देश के साहित्यकारों से माफी मांगनी चाहिए।

15 साल बेमिसाल पर जोगी कांग्रेस का कटाक्ष....बताया...जोगी को घेरने दोनों दलोंं ने मिलाया हाथ...

             मोदी का सोनियां गांधी पर दिये गये बयान पर जोगी ने कहा कि राजनीति में हमेशा नाप-तौल कर बोलना चाहिए। चूंकी मोदी स्वंभू नेता हैं इसलिए बहककर ऐसे बयान दे रहे हैं। उन्होंने कहा राजनीति में व्यक्तिगत द्वैष के लिए कोई जगह नहीं है।

           मरवाही क्षेत्र सूखे की चपेट में है और अमित रेलवे से मुआवजे के लिए जीएम से मिल रहे हैं क्या उन्हें क्षेत्र में सूखे की स्थिति की जानकारी नहीं है के प्रश्न पर अजीत जोगी ने कहा कि अमित जोगी क्षेत्र में जमकर काम कर रहे हैं। सरकार की जब आंख नहीं खुली थी सूखे की आशंका को पढ़ते हुए अमित जोगी ने अपने क्षेत्र में राहत काम शुरू कर दिया। उन्होंने कहा कि सरकार के अधिकारियों को गप्पवाजी से फुर्सत नहीं है। अब जब बहुत नुकसान हो गया है तो उनकी नींद खुली है। जोगी ने बताया कि किसानों और गरीबों तक सरकार से राहत पहुंचते पहंचते बहुत नुकसान हो चुका होगा।

             बातचीत के बाद अजीत जोगी ने सरगुजा और जशपुर से आए छात्र नेताओं से मुलाकत कर छात्र चुनाव की सफलता पर बधाई दी।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS